लाइव टीवी

JNU मामला: वेंकैया नायडू से मिले विपक्षी नेता, फीस बढ़ोतरी पर चर्चा की मांग

भाषा
Updated: November 19, 2019, 6:46 PM IST
JNU मामला: वेंकैया नायडू से मिले विपक्षी नेता, फीस बढ़ोतरी पर चर्चा की मांग
जेएनयू मामले पर विपक्षी दलों ने राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू से मुलाकात की (फाइल फोटो, PTI)

इस मामले में वामदलों (Left Parties) के कार्यस्थगन प्रस्ताव की मांग ठुकराये जाने के कारण सदन (House) में हुए विपक्षी दलों के हंगामे के बाद नायडू ने सदन की बैठक सुबह शुरू होने के कुछ ही देर बाद दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित (Adjourned) कर दी थी.

  • Share this:
नई दिल्ली. विपक्षी दलों (Opposition Leaders) के नेताओं ने मंगलवार को राज्यसभा (Rajya Sabha) के सभापति एम वेंकैया नायडू (M Venkaiah Naidu) से मुलाकात कर जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में फीस बढ़ोतरी (Fee Hike) के मामले पर उच्च सदन में चर्चा कराए जाने की मांग की.

इस मामले में वामदलों (Left Parties) के कार्यस्थगन प्रस्ताव की मांग ठुकराये जाने के कारण सदन (House) में हुए विपक्षी दलों के हंगामे के बाद नायडू ने सदन की बैठक सुबह शुरू होने के कुछ ही देर बाद दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी थी.

गुलाम नबी आजाद कर रहे थे विपक्षी नेताओं की अगुआई
सभापति कार्यालय के सूत्रों ने बताया कि सदन की बैठक स्थगित होने के बाद विपक्ष के नेताओं ने JNU के आंदोलनरत छात्रों पर पुलिस लाठीचार्ज (Police Lathicharge) का मुद्दा सभापति के समक्ष उठाते हुए सदन में इस पर चर्चा कराने की मांग की.

सूत्रों के अनुसार, राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) की अगुआई में विपक्षी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल ने सभापति से इस मुद्दे पर सदन को तीन घंटे के लिए स्थगित करने के औचित्य पर भी सवाल उठाया. राकांपा (NCP) के शरद पवार, कांग्रेस के आनंद शर्मा, तृणमूल कांग्रेस (TMC) के सुखेंदु शेखर राय, माकपा के टी के रंगराजन और आप के संजय सिंह सहित अन्य दलों के नेताओं ने नायडू ने इस मुद्दे पर सदन में विपक्ष को अपनी बात रखने का मौका देने का अनुरोध किया.

नायडू पहले ही JNU मामले को शून्यकाल में उठाने की दे चुके हैं अनुमति
राज्यसभा सचिवालय के सूत्रों के अनुसार, नायडू ने कहा कि वह JNU का मामला शून्यकाल (Zero Hour) में उठाने की अनुमति पहले ही दे चुके हैं. यह मामला कार्यस्थगन (Adjournment) के लिए उपयुक्त नहीं है.
Loading...

सूत्रों के अनुसार, नायडू ने विपक्ष के नेताओं (Opposition Leaders) को ध्यान दिलाया कि सदन की कार्यवाही के बारे में सभी दलों के नेताओं के साथ हुई बैठक में भी विपक्षी दलों ने आश्वस्त किया था कि वे इस मामले में आसन के समीप आने के बजाय सकारात्मक चर्चा में हिस्सा लेंगे.

सूत्रों के अनुसार, नायडू ने प्रश्नकाल भी विपक्षी दलों के हंगामे की भेंट चढ़ने पर क्षोभ व्यक्त करते हुए विपक्ष के नेताओं से महत्वपूर्ण मुद्दों (Important Topics) पर सदन में सकारात्मक चर्चा कराने का माहौल बरकरार रखने की अपील की.

यह भी पढ़ें: जब लोकसभा में स्‍पीकर ओम बिरला बोले- राहुल गांधी आज छुट्टी पर हैं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 19, 2019, 6:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...