Home /News /nation /

opposition protest outside the radisson blu hotel in guwahati tmc tweeted and targeted the assam government

गुवाहाटी के रैडिसन ब्लू होटल के बाहर तृणमूल कांग्रेस का हंगामा, TMC ने ट्वीट कर राज्य सरकार पर साधा निशाना

सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने रैडिसन ब्लू होटल की यात्रा की है. (फाइल फोटो)

सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने रैडिसन ब्लू होटल की यात्रा की है. (फाइल फोटो)

Maharashtra Political Crisis, Sanjay Raut, Eknath Shinde, Shivsena, BJP: अब तक करीब 46 विद्रोही विधायक एकनाथ शिंदे के पाले में जा चुके हैं जो कि इस समय गुवाहाटी के रैडिसन ब्लू होटल में ठहरे हुए हैं. इस बीच शिवसेना नेता संजय राउत ने बागी विधायकों से कहा है अगर वे 24 घंटे के अंदर महाराष्ट्र लौटते हैं तो वे एमवीए से अलग होने के बारे में सोचेंगे. महाराष्ट्र में जारी संकट पर बीजेपी खुले तौर पर कुछ भी नहीं कह रही, लेकिन इस पर बारीकी से नजर बनाए हुए है.

अधिक पढ़ें ...

कमालिका सेनगुप्ता

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में सियासी उथल पुथल मची हुई है. शिवसेना (Shiv Sena News) विधायक एक एक करके सीएम उद्धव ठाकरे (Cm uddhav thackeray) का साथ छोड़ते नजर आ रहे हैं. अब तक करीब 46 विद्रोही विधायक एकनाथ शिंदे के पाले में जा चुके हैं जो कि इस समय गुवाहाटी के रैडिसन ब्लू होटल में ठहरे हुए हैं. इस बीच शिवसेना नेता संजय राउत ने बागी विधायकों से कहा है कि अगर वे 24 घंटे के अंदर महाराष्ट्र लौटते हैं तो वे महा विकास अघाड़ी (एमवीए) गठबंधन से अलग होने के बारे में सोचेंगे. महाराष्ट्र में जारी संकट पर बीजेपी खुले तौर पर कुछ भी नहीं कह रही, लेकिन इस पर बारीकी से नजर बनाए हुए है.

शिवसेना के विद्रोही विधायकों के गुवाहाटी के गोपीनाथ बोरदोलाई एयरपोर्ट पर पहुंचने से पहले ही उनकी अगवानी के लिए भगवा पार्टी की मौजूदगी और सीएम हिमंत बिस्वा सरमा के होटल रैडिसन ब्लू जाने ने भाजपा की रणनीति के साफ तौर पर संकेत दे दिए हैं.

इस वजह से असम में रोके गए विद्रोही विधायक
न्यूज 18 ने पहले ही बताया था कि भाजपा सूत्रों का कहना है कि केंद्र में सत्तारूढ़ दल असम को सुरक्षित मानता है क्योंकि राज्य में भाजपा का दबदबा है. यहां पर विपक्ष या फिर शिवसेना या उद्धव ठाकरे राज्य में किसी भी तरह से अपना प्रभाव नहीं डाल सकते. इसके साथ ही अंदरूनी सूत्रों की मानें तो बागी विधायकों को यहां पर ठीक से रखने के ऑपरेशन को मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा सुचारू रूप से अंजाम दे सकते हैं.

वहीं इस बीच बागी विधायकों के रैडिसन ब्लू होटल में ठहरने को लेकर टीएमसी की असम इकाई के सदस्यों और कार्यकर्ताओं ने होटल के बाहर भारी विरोध प्रदर्शन किया. कार्यकर्ताओं ने भाजपा पर महाराष्ट्र सरकार को गिराने का आरोप लगाया. टीएमसी कार्यकर्ताओं के विरोध को देखते हुए सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है और कुछ टीएमसी नेताओं को हिरासत में भी लिया गया.

TMC ने ट्वीट करके सरकार पर साधा निशाना
टीएमसी ने ट्वीट कर असम सरकार पर निशाना साधा और कहा कि राज्य में बिजली नहीं है, पीने का साफ पानी नहीं है, बाढ़ संकट का कोई प्रभावी प्रबंधन नहीं है, सरकार को लोगों की परेशानी की कोई परवाह नहीं है. राज्य सरकार का कोई नेता आम लोगों के साथ खड़ा नजर नहीं आता.

टीएमसी ने आरोप लगाया कि राज्य में करीब 20 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं उनकी किसी को चिंता नहीं है, लेकिन राज्य सरकार दूसरे राज्य की सरकार गिराने में व्यस्त है. दूसरे राज्य से आए 40 बागी विधायक सबसे असंवेदनशील मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा के साथ क्षुद्र राजनीति में व्यस्त हैं.

Tags: Himanta biswa sarma, Maharahstra, Shiv sena, Shiv Sena MLA, TMC

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर