जम्मू में कल से हटाई गई धारा 144, खुलेंगे स्कूल-कॉलेज

5 अगस्त को राज्यसभा में राज्य के पुनर्गठन, आर्टिकल 370 और आर्टिकल 35ए हटाए जाने संबंधी बिल पेश होने से पहले पूरे राज्य में धारा 144 लागू कर दी गई थी.

News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 6:35 PM IST
जम्मू में कल से हटाई गई धारा 144, खुलेंगे स्कूल-कॉलेज
5 अगस्त को राज्यसभा में राज्य के पुनर्गठन, आर्टिकल 370 और आर्टिकल 35ए हटाए जाने संबंधी बिल पेश होने से पहले पूरे राज्य में धारा 144 लागू कर दी गई थी.
News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 6:35 PM IST
जम्मू और कश्मीर  (Jammu And Kashmir) के जम्मू जिले (Jammu District) में शनिवार से धारा 144 हटा ली गई. जिले के डिप्टी कमिश्नर की ओर से जारी किए गए आदेश के अनुसार इसके बाद स्कूल और कॉलेज खोल दिए जाएंगे. आदेश के अनुसार जम्मू के नगर निगम सीमा के भीतर धारा 144 हटा दी गई.

आदेश में कहा गया है कि - 'जम्मू जिले के नगर निगम सीमा के भीतर धारा 144 सीआरपीसी के तहत जारी आदेश वापस ले लिए गए। बंद किए गए स्कूल और कॉलेज कल से फिर से शुरू हो सकते हैं.'

बता दें 5 अगस्त को राज्यसभा में राज्य के पुनर्गठन, आर्टिकल 370 और आर्टिकल 35ए हटाए जाने संबंधी बिल पेश होने से पहले पूरे राज्य में धारा 144 लागू कर दी गई थी.



पीएम ने बताया 'ऐतिहासिक निर्णय’

गौरतलब है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को समाप्त करने को 'ऐतिहासिक निर्णय’ करार दिया. राष्ट्र के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि अनुच्छेद 370 और 35ए ने जम्मू-कश्मीर को अलगाववाद, आतंकवाद, परिवारवाद और व्यवस्था में बड़े पैमाने पर फैले भ्रष्टाचार के अलावा कुछ नहीं दिया, ऐसे में देशहित को सर्वोपरि रखते हुए व्यवहार करें और जम्मू-कश्मीर-लद्दाख को नई दिशा देने में सरकार की मदद करें.

यह भी पढ़ें:  'अनुच्छेद 370 हटाने में नहीं अपनाई गई लोकतांत्रिक प्रक्रिया'
Loading...

संसद द्वारा जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने के संकल्प और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित करने संबंधी विधेयक को मंजूरी दिए जाने के बाद इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री ने गुरुवार को राष्ट्र के नाम संबोधन दिया.

प्रधानमंत्री ने कहा- 

केंद्र के इस फैसले को जोरदार तरीके से सही ठहराते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ' जम्मू कश्मीर के संदर्भ में अनुच्छेद 370 और 35ए का देश के खिलाफ कुछ लोगों की भावनाएं भड़काने के लिये, पाकिस्तान द्वारा एक शस्त्र की तरह इस्तेमाल किया जाता था और अब वहां एक नए युग की शुरुआत हुई है.' प्रधानमंत्री ने कहा, ' अब अनुच्छेद 370 हटने के बाद, मुझे पूरा विश्वास है कि जम्मू-कश्मीर की जनता अलगाववाद को परास्त करके नई आशाओं के साथ आगे बढ़ेगी. जम्मू-कश्मीर की जनता, सुशासन और पारदर्शिता के वातावरण में, नए उत्साह के साथ अपने लक्ष्यों को प्राप्त करेगी.'

अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त करने और जम्मू-कश्मीर को दो केन्द्र शासित प्रदेशों (जम्मू-कश्मीर और लद्दाख) में विभाजित करने के फैसले का कुछ लोगों द्वारा विरोध किए जाने के संदर्भ में प्रधानमंत्री ने कहा, ' लोकतंत्र में ये स्वाभाविक है कि कुछ लोग इस फैसले के पक्ष में हैं और कुछ का इस पर मतभेद है. हम उनके मतभेद का और उनकी आपत्तियों का भी सम्मान करते हैं.'

यह भी पढ़ें: आर्टिकल 370 हटने से वाल्मीकि समुदाय में जगी न्याय की उम्मीद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 9, 2019, 5:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...