कर्नाटक के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष ने सिद्धारमैया पर लगाया ये गंभीर आरोप

न्यूज़ 18 से बात करते हुए, उन्होंने कहा "सिद्धारमैया इस करारी हार के लिए ज़िम्मेदार है. उन्होंने कर्नाटक में कांग्रेस को बर्बाद कर दिया.

D P Satish
Updated: May 16, 2018, 6:13 PM IST
कर्नाटक के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष ने सिद्धारमैया पर लगाया ये गंभीर आरोप
पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया
D P Satish
Updated: May 16, 2018, 6:13 PM IST
कर्नाटक विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेसी नेताओं के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. विधानसभा के स्पीकर केबी कोलीवाड़ ने सिद्धारमैया को हार के लिए सीधे तौर पर ज़िम्मेदार ठहराया है.

आपको बता दें कि कोलीवाड़, राणेबेनूर सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के हाथों 6000 वोटों से चुनाव हार गए. हार के बाद कोलीवाड़ ने कहा कि कांग्रेस को सिद्धारमैया से पार्टी की ज़िम्मेदारी वापस ले लेनी चाहिए.

न्यूज़ 18 से बात करते हुए, उन्होंने कहा "सिद्धारमैया इस करारी हार के लिए ज़िम्मेदार है. उन्होंने कर्नाटक में कांग्रेस को बर्बाद कर दिया. सिद्धारमैया ने शंकर को मेरे खिलाफ एक निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर खड़ा किया था. मैं कुछ हज़ार वोटों से उनके खिलाफ चुनाव हार गया. और वो निर्दलीय विधायक आज बीजेपी में शामिल हो गया है. सिद्धारमैया ने अपराध किया है. उनका हाव भाव, भाषा सारी चीज़े कांग्रेस के खिलाफ चली गई है.''

कोलीवाड़ ने कांग्रेस हाईकमान से अपील की है कि वो भविष्य में सिद्धारमैया को कोई अहमियत न दे. उन्होंने कहा, "उनके खून में कांग्रेस नहीं है. उन्होंने अपने व्यक्तिगत लाभ के लिए लिंगायत और वोक्कालिगा से दुश्मनी कर ली.''

कोलीवाड़ के मुताबिक सिद्धारमैया ने अपनी इमेज बनाने के लिए कांग्रेस का इस्तेमाल किया. उन्होंने कहा "हमें सिद्धारमैया को पार्टी में नहीं लेना चाहिए था. हमने कांग्रेस के कई पुराने नेता को खो दिया. सिद्धारमैया ने जेडीएस के लोगों के साथ मिल कर काम किया.''

कोलीवाड़ ने कहा है कि अगर सिद्धारमैया को प्रदेश अध्यक्ष बनाया जाता है तो ये कांग्रेस के लिए आत्मघाती फैसला होगा. उन्होंने कहा, "सिद्धारमैया को लोगों ने नकार दिया है. उसे बाहर रखा जाना चाहिए. हमें कांग्रेस का पुनर्निर्माण करना होगा. डीके शिवकुमार एक बेहतर विकल्प हैं.''

निर्दलीय उम्मीदवार शंकर ने बीजेपी को समर्थन देने का ऐलान किया है. शंकर कुरबा जाति से हैं. आपको बता दें कि मंगलवार को जीत के बाद कांग्रेस ने उन्हें बेंगलुरू लाने के लिए हेलिकॉप्टर भेजा था. लेकिन शंकर बीजेपी के साथ हो गए.

ये भी पढ़ें:-

देश की राजनीति में 90 के दशक का 'बिहार', लालू की तरह मोदी के चक्रव्यूह में फंसता विपक्ष
अब इस रिसॉर्ट में कर्नाटक के MLA ले सकते हैं 'पनाह', देखें Inside Pics
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Nation News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर