चीन के खिलाफ लोगों में आक्रोश, कहा- सेना को दो ताकत दिखाने का मौका

चीन के खिलाफ लोगों में आक्रोश, कहा- सेना को दो ताकत दिखाने का मौका
गुजरात के अहमदाबाद में चीन के खिलाफ लोगों का फूटा गुस्सा (फोटो: ANI)

दिल्ली में चीनी एंबेसी (Chinese Embassy) के बाहर स्वदेशी जागरण मंच के प्रदर्शनकारियों का एक समूह चीन के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए तीन मूर्ति गोल चक्कर के पास इकट्ठा हुआ. पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया.

  • Share this:
नई दिल्ली. लद्दाख (ladakh) की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने पर देशभर में आक्रोश का माहौल है. लोग सड़क पर उतरकर चीन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग का पुतला, पोस्टर जलाए जा रहे हैं. प्रदर्शनकारी चीनी उत्पादों (Chinese products) का बहिष्कार करने, उसके साथ संबंध तोड़ने और बदला लेने की मांग कर रहे हैं.

दिल्ली में चीनी एंबेसी के बाहर स्वदेशी जागरण मंच के 10 प्रदर्शनकारियों का एक समूह चीन के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए तीन मूर्ति गोल चक्कर के पास इकट्ठा हुआ. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के दूसरे समूह को हिरासत में ले लिया. वहीं, पूर्व सैनिकों का एक समूह बुधवार को यहां चीनी दूतावास के पास एकत्र हुआ. अधिकारियों ने बताया कि छह-सात पूर्व सैनिकों का समूह ‘शहीद कल्याण एसोसिएशन’ के बैनर तले विरोध प्रदर्शन करने के लिए चीनी दूतावास के पास इकट्ठा हुआ.
वाराणसी में जिनपिंग का पुतला फूंकाचीन के खिलाफ देश के विभिन्न राज्यों में विरोध प्रदर्शन हो रहा है. उत्तर प्रदेश के वाराणसी में चीन के खिलाफ प्रदर्शन किए गए. लोगों ने धोखेबाज चीन मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए शी जिनपिंग का पुतला जलाया. इतना ही नहीं गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने चीन के गैजेट्स को भी तोड़ डाला और चीन के सामान का विरोध करने का ऐलान किया.चीनी सामान को जलाते हुए नारेबाजीगुजरात के अहमदाबाद में चीन की हरकतों के खिलाफ विरोध करने लोग आज सड़कों पर उतरे. भारतीय सेना के जवानों को श्रद्धांजली देने के बाद चीनी चीजों के बॉयकॉट की अपील के साथ लोगों ने विरोध किया.

जम्मू में विरोध-प्रदर्शन
जम्मू में भी चीन के खिलाफ भारत में खासा आक्रोश दिख रहा है. अधिकारियों ने बताया कि यहां प्रदर्शनकारियों ने चीन का झंडा और पुतला जलाया. उन्होंने चीनी उत्पादों को भी आग के हवाले किया और चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की कार्रवाई का मुंहतोड़ जवाब देने की मांग करते हुए जोरदार नारेबाजी की. हालांकि उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारी शांतिपूर्ण तरीके से तितर-बितर हो गए. अधिकारियों ने बताया कि विभिन्न राजनीतिक दलों और सामाजिक संगठनों के युवा कार्यकर्ताओं ने भी प्रदर्शन में भाग लिया



हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद
बता दें कि लद्दाख सीमा (Ladakh Lac Border) पर भारत (India) और चीन (China) के सैनिकों के बीच हुई 15-16 जून की रात हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे, जबकि चीन के 45 सैनिक गंभीर रूप से हताहत बताए जा रहे हैं. लद्दाख में हुई हिंसक झड़प के बाद से दोनों देशों के बीच हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं.

ये भी पढ़ें :-

चीन से झड़प पर बोले पीएम मोदी- हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा

लद्दाख में शहीद भारतीय जवानों को दी गई सलामी, जल्द परिजनों को सौंपा जाएगा शव
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज