Home /News /nation /

बिना 'मेहरम' हज पर जाने के लिए 1,000 महिलाओं ने दिया आवेदन

बिना 'मेहरम' हज पर जाने के लिए 1,000 महिलाओं ने दिया आवेदन

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने गुरुवार को कहा कि मुस्लिम महिलाओं के बिना मेहरम के हज पर जाने पर लगी रोक हटाए जाने के उत्साहजनक नतीजे सामने आए हैं.

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने गुरुवार को कहा कि मुस्लिम महिलाओं के बिना मेहरम के हज पर जाने पर लगी रोक हटाए जाने के उत्साहजनक नतीजे सामने आए हैं.

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने गुरुवार को कहा कि मुस्लिम महिलाओं के बिना मेहरम के हज पर जाने पर लगी रोक हटाए जाने के उत्साहजनक नतीजे सामने आए हैं.

    केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने गुरुवार को कहा कि मुस्लिम महिलाओं के बिना मेहरम के हज पर जाने पर लगी रोक हटाए जाने के उत्साहजनक नतीजे सामने आए हैं और 13 दिसंबर तक करीब 1,000 महिलाओं ने मेहरम के बिना हज पर जाने के लिए आवेदन किया है.

    निजी टूर ऑपरेटरों (पीटीओ) के लिए पोर्टल की शुरुआत करते हुए नकवी ने कहा, 'मुस्लिम महिलाओं को बिना मेहरम के हज पर जाने पर रोक हटाए जाने का देश भर में स्वागत हुआ है. ये केंद्र की मोदी सरकार का महिला सशक्तीकरण की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम है. इस कदम के उत्साहजन परिणाम सामने आए हैं.' नकवी ने कहा, '15 नवंबर को हज-2018 के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू होने के बाद से देश भर से अब तक 1,000 से ज्यादा महिलाओं ने बिना मेहरम के हज पर जाने के लिए आवेदन किया है. इनमें बहुत सारी महिलाओं के आवेदन स्वीकार कर लिए गए हैं.'

    नयी हज नीति के तहत 45 वर्ष या इससे अधिक आयु वाली महिलाओं को चार अथवा अधिक के समूह में मेहरम के बिना हज पर जाने की अनुमति दी गई है. इस्लामी व्यवस्था के अनुसार मेहरम उस शख्स को कहते हैं जिसके साथ महिला की किसी भी सूरत में शादी नहीं हो सकती. मसलन, पुत्र, सगा भाई और पिता मेहरम हो सकते हैं.

    नकवी ने कहा, 'अब तक 2 लाख 63 हज़ार से ज्यादा लोगों ने हज के लिए आवेदन किया है जिसमें लगभग 1 लाख 38 हज़ार ऑनलाइन आवेदन आए हैं. इससे अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय के संपूर्ण हज प्रक्रिया को डिजिटल बनाने के इरादे को बल मिला है. इसके अलावा मोबाइल ऐप से भी हज के लिए आवेदन किया जा रहा है.' हज के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ़ा कर 22 दिसंबर कर दी गई है. साल 2017 में भारत का हज कोटा सऊदी अरब सरकार ने बढ़ा कर 1 लाख 70 हज़ार 25 कर दिया था.

    नकवी ने कहा, 'अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय के निजी टूर ऑपरेटरों के लिए पहली बार पोर्टल लॉन्च किया गया है जिससे प्राइवेट टूर ऑपरेटरों की कार्यप्रणाली पूरी तरह से पारदर्शी हो जाएगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया कार्यक्रम को आगे बढ़ाने के लिए पीटीओ के लिए पोर्टल विकसित किया गया है. इस पोर्टल का उद्देश्य पीटीओ और हज यात्रियों के अनेकों मुद्दों का समाधान भी करना है.' उन्होंने ये भी कहा कि निजी टूर ऑपरेटरों के खिलाफ शिकायतें मिलने पर मंत्रालय की ओर से कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

    Tags: Mukhtar abbas naqvi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर