आजम के बचाव में आए ओवैसी, बोले- सरकार बताए एमजे अकबर का क्या हुआ?

ओवैसी ने स्पीकर से कहा कि आप जरूर इस मामले पर फैसला लीजिए, लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि आपकी सत्ताधारी पार्टी के एमजे अकबर से संबंधित मामले पर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की एक कमेटी बनाई थी, उसकी रिपोर्ट कहां गई?

News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 4:09 PM IST
आजम के बचाव में आए ओवैसी, बोले- सरकार बताए एमजे अकबर का क्या हुआ?
आजम के बचाव में आए ओवैसी
News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 4:09 PM IST
लोकसभा में बीजेपी सांसद रमा देवी पर दिए गए आजम खान के बयान पर विवाद जारी है. आजम खान के खिलाफ कार्रवाई के लिए लोकसभा में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास हो गया है. स्पीकर को आजम के खिलाफ एक्शन लेने के लिए अधिकार दिया गया है.

एआईएमआईएम नेता और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने स्पीकर ओम बिरला से आजम खान पर फैसला लेने की बात कही है. साथ ही उन्होंने पूछा कि एमजे अकबर की जांच रिपोर्ट कहां है.

ओवैसी ने कहा, "मैं सदन के सदस्यों की बात से सहमत हूं. मैं सभी के जज्बातों का अहतराम करता हूं, इज्जत करता हूं. सदन की बेहतरी के लिए यह जरूरी है कि इसे नियम के मुताबिक चलाया जाना चाहिए, जिसमें सभी की इज्जत बरकरार रहे."

ओवैसी ने स्पीकर से कहा कि आप जरूर इस मामले पर फैसला लीजिए, लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि आपकी सत्ताधारी पार्टी के एमजे अकबर से संबंधित मामले पर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की एक कमेटी बनाई थी, उसकी रिपोर्ट कहां गई?

आजम खान ने किया था पर्सनल कमेंट
बता दें कि गुरुवार को लोकसभा में तीन तलाक बिल पर चर्चा के दौरान रामपुर से एसपी सांसद आज़म खान ने सभापति की कुर्सी पर बैठी रमा देवी पर निजी और विवादास्‍पद टिप्‍पणी की थी. इसे लेकर संसद में काफी हंगामा हुआ था, जो शुक्रवार को भी जारी रहा.

शुक्रवार को लोकसभा में आजम खान के बयान की स्मृति ईरानी ने जमकर आलोचना की.

Loading...

महिला सांसदों ने बोला हमला
शुक्रवार को लोकसभा में आजम खान के बयान की जमकर आलोचना हुई. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने आजम पर हमला बोलते हुए कहा, "आज़म खान ने कभी औरतों की इज्‍जत नहीं की. हम सभी जानते हैं कि उन्‍होंने जया प्रदा को लेकर क्‍या कहा था. इन्‍हें लोकसभा में बने रहने का कोई अधिकार नहीं है. मैं स्‍पीकर से आज़म खान को बर्खास्‍त करने का अनुरोध करूंगी. आज़म को अपने बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए."

टीएमसी सांसद मिमी चक्रवर्ती ने कहा कि कोई भी व्यक्ति संसद में खड़ा होकर एक महिला को नहीं कह सकता है कि मेरी आंखों में देखो और बात करो.

ये भी पढ़ें: खेद प्रकट करने और अपनी बात वापस लेने के सिवाय आजम खान के सामने क्या कोई विकल्प है?
First published: July 26, 2019, 3:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...