बेगूसराय में नाम पूछकर मुस्लिम व्यक्ति को मारी गोली, ओवैसी बोले- मैं डर रहा हूं

रिपोर्ट के मुताबिक अघनू मियां का बेटा मोहम्मद क़ासिम खानजहांपुर पंचायत के वॉर्ड नं. 11 का रहने वाला है जिसे छेरिया बरियारपुर थाने में आने वाले कुंभी गांव में वहीं के रहने वाले राजीव यादव ने गोली मार दी.

News18Hindi
Updated: May 28, 2019, 9:51 AM IST
बेगूसराय में नाम पूछकर मुस्लिम व्यक्ति को मारी गोली, ओवैसी बोले- मैं डर रहा हूं
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18Hindi
Updated: May 28, 2019, 9:51 AM IST
बिहार के बेगूसराय में कथित तौर पर एक व्यक्ति के साथ धर्म के आधार पर हिंसा का मामला सामने आया है. इस घटना के संबंध में एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी ट्वीट किया है. ओवैसी ने एक वीडियो ट्वीट को रीट्वीट किया है. ओवैसी ने लिखा है,  ''कासिम ने अपना नाम बताकर अपनी जिंदगी लगभग खो दी थी. लेकिन ये सच है कि मैं डर रहा हूं. ये पागलपन कहां से आता है? ऊपर से. बीजेपी के नेतृत्व ने हमें लगातार पाकिस्तान के साथ जोड़ दिया है. हम उनकी नजर में मानवीय नहीं हैं, हम निशाने पर हैं.''

ओवैसी ने इसके साथ जो ट्वीट रीट्वीट किया है उसमें लिखा है, ''मुस्लिम के खिलाफ एक और हिंसा की घटना. बिहार के बेगूसराय में एक मुस्लिम हॉकर को गोली मार दी गई." किसी लड़के ने उसका नाम पूछा, उसने कहा मोहम्मद क़ासिम, इसके बाद उसने अपशब्द इस्तेमाल कर कहा, ''तू यहां क्या कर रहा है, तुझे तो पाकिस्तान में होना चाहिए और उसे गोली मार दी.'' ट्वीट करने वाले शख्स ने इसके साथ एक वीडियो भी पोस्ट किया है.



सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है वीडियो
द हिंदू में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक मोहम्मद क़ासिम नाम के एक युवक को नाम पूछने के बाद रविवार को गोली मार दी गई. छेरिया-बरियारपुर थाने में इस संबंध में मामला दर्ज किया गया है. हालांकि पुलिस का कहना है कि इस मामले में अभी तक आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया है. सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक घायल युवक अपनी आपबीती बता रहा है.




कैसे बची क़ासिम की जान
रिपोर्ट के मुताबिक अघनू मियां का बेटा मोहम्मद क़ासिम खानजहांपुर पंचायत के वॉर्ड नं. 11 का रहने वाला है जिसे छेरिया बरियारपुर थाने में आने वाले कुंभी गांव में वहीं के रहने वाले राजीव यादव ने गोली मार दी. क़ासिम डिटर्जेंट बेचता है और रविवार सुबह वह अपने काम से कुंभी गांव गया था.

क़ासिम ने द हिंदू को बताया कि मुझे राजीव यादव ने रोक लिया और मेरा नाम पूछा, जब मैंने अपना नाम बताया तो उसने मुझे गोली मार दी और कहा कि तुमको पाकिस्तान चले जाना चाहिए. राजीव ने उस वक्त शराब पी हुई थी और वह अपनी पिस्तौल में दूसरी गोली भरने लगा तभी मैंने उसे धक्का दिया और वहां से भाग गया.

कोई नहीं आया मदद को
क़ासिम के कंधे में गोली लगी है. वायरल हो रहे वीडियो में क़ासिम बता रहा है कि उस समय वहां कोई भी नहीं था न ही कोई उसकी मदद करने के लिए आया. वह किसी तरह थाने आया जहां से पुलिस उसे अस्पताल ले गई.

न्यूज़18 के स्थानीय संवाददाता को पुलिस ने बताया कि क़ासिम ने अपनी शिकायत में हिंदू-मुस्लिम जैसी किसी भी बात का ज़िक्र नहीं किया है. यह मामला धार्मिक न होकर प्रॉपर्टी से जुड़ा है.

इस मामले में बेगूसराय से चुनाव लड़ने वाले कन्हैया कुमार ने भी ट्वीट किया है.



यह भी पढ़ें-

पहनकर आना मना है, जय श्री राम नहीं कहने पर की पिटाई

12 दिन से गायब बच्चे को परिजनों ने खुद तलाशा तो इस हाल में मिला बच्चा  

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...