अपना शहर चुनें

States

Vaccine Update: ऑक्सफोर्ड को पहले मिल सकता है इमरजेंसी अप्रूवल, ब्रिटेन के फैसले पर भारत की निगाहें

Vaccine Update: भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल अभी जारी हैं. जबकि, फाइजर (Pfizer) अभी कमेटी के सामने पेश नहीं हुई है. ऐसे में ऑक्सफोर्ड की कोविशील्ड (Covishield) देश में पहली उपलब्ध वैक्सीन बन सकती है.
Vaccine Update: भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल अभी जारी हैं. जबकि, फाइजर (Pfizer) अभी कमेटी के सामने पेश नहीं हुई है. ऐसे में ऑक्सफोर्ड की कोविशील्ड (Covishield) देश में पहली उपलब्ध वैक्सीन बन सकती है.

Vaccine Update: भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल अभी जारी हैं. जबकि, फाइजर (Pfizer) अभी कमेटी के सामने पेश नहीं हुई है. ऐसे में ऑक्सफोर्ड की कोविशील्ड (Covishield) देश में पहली उपलब्ध वैक्सीन बन सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 26, 2020, 6:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) के खिलाफ जंग में भारत को जल्द ही एक खुशखबरी मिल सकती है. उम्मीद की जा रही है कि भारत में जल्द ही ऑक्सफोर्ड (Oxford) की कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) को आपातकाल इस्तेमाल की अनुमति मिल सकती है. देश में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजैनेका (Oxford-Astrazeneca) वैक्सीन का निर्माण पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) में हो रहा है. सीरम दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी है. हालांकि, भारत में यह फैसला काफी हद तक ब्रिटेन में अनुमति पर निर्भर करता है.

माना जा रहा है कि ब्रिटेन में अगले हफ्ते तक ऑक्सफोर्ड की कोविड-19 वैक्सीन को इमरजेंसी यूज ऑथोराइजेशन दे सकती है. वहीं, भारत में जनवरी में वैक्सीन उपलब्ध कराने की तैयारी कर रहा है. इस फैसले को लेकर एक्सपर्ट पैनल की निगाहें ब्रिटेन पर अटकी हुईं हैं. सूत्र बताते हैं कि एक बार ब्रिटेन ड्रग रेग्युलेटर ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन को अनुमति दे देगा, तो CDSCO में एक्सपर्ट्स कमेटी बैठक करेगी. इस बैठक में वैक्सीन को लेकर विदेश और भारत में रिव्यू किए गए क्लीनिकल डेटा की जांच करेगी.

यह भी पढ़ें: कोविड वैक्‍सीन पर सरकार की पूरी तैयारी, 4 राज्यों में होगा वैक्सीनेशन का ड्राई रन



क्यों ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन को पहले मिल सकती है अनुमति?
भारत बायोटेक की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल अभी जारी हैं. जबकि, फाइजर अभी कमेटी के सामने पेश नहीं हुई है. ऐसे में ऑक्सफोर्ड की कोविशील्ड देश में पहली उपलब्ध वैक्सीन बन सकती है. यह जानकारी सूत्रों से मिली है. उन्होंने कहा कि सीरम ने बीते हफ्ते ड्रग कंट्रोलर ऑफ इंडिया के सामने अतिरिक्त डेटा पेश कर दिया है.

कुछ समय पहले भारत बायोटेक, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और फाइजर ने डीसीजीआई के सामने आपातकाल उपयोग की अनुमति मांगी थी. खास बात है कि फाइजर को ब्रिटेन, अमेरिका और बहरीन में इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति मिल चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज