कोरोना मरीजों को सीधे हवा से छानकर दी जा सकती है ऑक्सीजन, CSIR ने खोजा नायाब तरीका

देश में लगातार दूसरे दिन संक्रमण के दो लाख से अधिक दैनिक मामले सामने आए हैं. (सांकेतिक फोटो)

देश में लगातार दूसरे दिन संक्रमण के दो लाख से अधिक दैनिक मामले सामने आए हैं. (सांकेतिक फोटो)

Coronavirus updates: CSIR के डीजी शेखर सी मांडे ने कहा, 'देहात में ऑक्सीजन की कमी है तो CSIR के पास एक टेक्नोलॉजी सॉल्यूशन है. इस टेक्नोलॉजी को हमने कई कंपनियों को ट्रांसफर भी की है.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 16, 2021, 5:17 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. आज तो नए मामलों ने सारे रिकॉर्ड (Coronavirus Case updates) तोड़ दिए. दो लाख से अधिक नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं. बढ़ रहे मामलों का असर देश के बड़े राज्यों के बड़े-बड़े अस्पतालों में भी देखने को मिल रहा है. कई अस्पतालों में बेड नहीं हैं. कई में ऑक्सीजन और वेंटिलेटर की कमी है. हालांकि इस सबके बीच वैज्ञानिकों की मेहनत से कुछ अच्छी खबरें भी सामने आ रही हैं.

वो कहते हैं न, 'आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है.' इस बात सच कर दिखाया है वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद यानी सीएसआईआर ने. यहां के वैज्ञानिकों ने ऑक्सीजन की कमी को दूर करने का उपाय ढूंढ लिया है.

Youtube Video


हवा से ऑक्सीजन लेकर एनरीच
इस बात की जानकारी CSIR के डीजी शेखर सी मांडे ने कहा, ''देहात में ऑक्सीजन की कमी है तो CSIR के पास एक टेक्नोलॉजी सॉल्यूशन है. इस टेक्नोलॉजी को हमने कई  कंपनियों को ट्रांसफर भी की है. इसके जरिए हम हवा से ऑक्सीजन लेकर एनरीच करते हैं और वहीं के वहीं उसे प्रयोग में देते हैं.''

न्यूज18 इंडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि CSIR ने इसका पायलट प्रोजेक्ट देहरादून में शुरू किया है. सिर्फ 3 घंटे में मशीन को किसी भी गांव या कस्बे में इंस्टॉल कर नेचुरल हवा से ऑक्सीजन निकाल कर इस्तेमाल में लाया जा सकता है.

देश के अस्पतालों को मिलेगी राहत



अगर सीएसआईआर के वैज्ञानिकों का यह प्रयोग सफल होता है तो देश के अस्पतालों को राहत मिल सकती है. इसके साथ ही सुदूर देहात, जहां आज भी अस्पताल नहीं हैं, वहां के मरीजों को आपात स्थिति में हवा से छानकर ऑक्सीजन की सप्लाई की जा सकती है.

ये भी पढ़ेंः- मुंबई में हालात बेहद खराब, ऑक्सीजन से लेकर श्मशान में जगह के लिए मारामारी

मेडिकल ऑक्सीजन का तर्कसंगत उपयोग करें राज्य: केन्द्र

इस बीच केन्द्र सरकार ने आज ही राज्यों से मेडिकल ऑक्सीजन का तर्कसंगत उपयोग करने और यह सुनिश्चित करने को कहा ताकि इसकी बर्बादी न हो. साथ ही उसने कहा कि देश में ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोविड-19 रोगियों के इलाज में मेडिकल ऑक्सीजन महत्वपूर्ण घटक है.



महामारी से प्रभावित राज्यों को मेडिकल ऑक्सीजन समेत जरूरी चिकित्सा उपकरण मुहैया कराने के लिये मार्च 2020 में कोविड-19 महामारी के दौरान अधिकारियों के अंतर मंत्रालयी शक्तिसंपन्न समूह का गठन किया गया था. मंत्रालय ने कहा, ''ऑक्सीजन निर्माण इकाइयों में उत्पादन बढ़ाया गया है. पहले से स्टॉक मौजूद है. फिलहाल ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में मौजूद है.''
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज