Home /News /nation /

Ministry of Railways – ऑक्सीजन एक्‍सप्रेस ट्रेन कल सुबह पहुंचेंगी दिल्‍ली और उत्‍तर प्रदेश  

Ministry of Railways – ऑक्सीजन एक्‍सप्रेस ट्रेन कल सुबह पहुंचेंगी दिल्‍ली और उत्‍तर प्रदेश  

भारतीय रेलवे ऑक्सीजन एक्सप्रेस.

भारतीय रेलवे ऑक्सीजन एक्सप्रेस.

रेलवे मंत्रालय (Railway Ministry) द्वारा उत्‍तर प्रदेश और दिल्‍ली के लिए चलाई गईं ऑक्सीजन एक्‍सप्रेस (Oxygen Express) ट्रेन मंगलवार सुबह तक गंतव्‍य पर पहुंचने की संभावना है.

    नई दिल्‍ली. दिल्‍ली (Delhi) और उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में ऑक्‍सीजन (Oxygen) की किल्‍लत से मंगलवार सुबह तक राहत मिलने की संभावना है. रेलवे मंत्रालय (Railway Ministry) द्वारा चलाई जा रही ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस (Oxygen Express) से दोनों राज्‍यों में 9 टैंकरों पहुंच जाएंगे. मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार दोनों ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस रास्‍ते में हैं. इस तरह मंगलवार सुबह तक ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस से कुल 450 मिट्रिक टन ऑक्‍सीजन की आपूर्ति हो जाएगी.

    रेलवे मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार रायगढ़ (छत्तीसगढ़) से 4 टैंकरों को लेकर आक्‍सीजन एक्‍सप्रेस ट्रेन लेकर रवाना हो चुकी है, जिसकी मंगलवार सुबह तक दिल्ली पहुंचने की उम्मीद है. इससे ऑक्‍सीजन की कमी से जूझ रहे दिल्‍ली वालों को कुछ हद तक राहत मिल सकेगी. वहीं, एक अन्य ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन बोकारो (झारखंड) से लखनऊ (उत्तर प्रदेश) के  लिए  90 मीट्रिक ऑक्‍सीजन (5 टैंकर) लेकर रवाना हो चुकी है, जिसकी भी मंगलवार सुबह तक लखनऊ पहुंचने की उम्मीद है. इसके साथ ही एक खाली रेक ऑक्सीजन टैंकरों के एक और सेट को लाने के लिए लखनऊ से बोकारो जल्‍द ही रवाना होगा.



    मंत्रालय के अनुसार महाराष्ट्र के 44 मिट्रिक टन (3 टैंकर) लेकर एक आक्‍सीजन एक्‍सप्रेस ट्रेन सोमवार को हापा (राजकोट, गुजरात) से कलांबोली (मुंबई के पास) पहुची है. रेलवे ने कई जरूरतमंद राज्यों में अब तक 302 मीट्रिक टन से अधिक ऑक्सीजन सुरक्षित पहुंचाया है. एक आक्‍सीजन एक्‍सप्रेस 154 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर अपने रास्ते पर है. रेलवे मंत्रालय ऐसे सभी राज्‍यों के बराबर संपर्क में है, जहां पर आक्‍सीजन की आवश्‍कता है.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर