लाइव टीवी

अनुराग के विवादित बोल पर चिदंबरम का हमला, कहा- BJP की बयानबाजी जर्मनी की दिलाती है याद

भाषा
Updated: January 28, 2020, 7:35 PM IST
अनुराग के विवादित बोल पर चिदंबरम का हमला, कहा- BJP की बयानबाजी जर्मनी की दिलाती है याद
पी चिदंबरम फाइल फोटो

पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने ट्वीट किया, ‘बीजेपी के मंत्री, लोगों को ‘गोली मारो’ के नारे के साथ उकसा रहे हैं. क्या यह एक तबके के खिलाफ हिंसा के लिए भड़काना नहीं है?’

  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) के विवादित नारे को लेकर बीजेपी पर हमला बोला है. चिदंबरम ने कहा कि सत्तारूढ़ पार्टी के नेताओं के बयान 1930 के दशक के जर्मनी की याद दिलाते हैं.

पूर्व गृह मंत्री चिदंबरम ने ट्वीट किया, ‘बीजेपी के मंत्री, लोगों को ‘गोली मारो’ के नारे के साथ उकसा रहे हैं. क्या यह एक तबके के खिलाफ हिंसा के लिए भड़काना नहीं है?’ उन्होंने सवाल किया, ‘चुनाव आयोग नींद से कब जागेगा?’



‘BJP की बयानबाजी दिलाती है 1930 के दशक की याद’चिदंबरम ने दावा किया, ‘एक-एक दिन बीतने के साथ ही बीजेपी की तरफ से जो बयानबाजी हो रही है वह 1930 के दशक के जर्मनी की याद दिलाती है.’ दरअसल, भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को तब विवाद पैदा कर दिया जब उन्होंने चुनावी रैली में आए लोगों को ‘गद्दारों को मारने वाला’ भड़काऊ नारा लगाने के लिए उकसाया. इससे पहले उन्होंने सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर निशाना साधा था.

अनुराग ठाकुर ने लगवाए थे विवाद नारे
गौरतलब है कि सोमवार को दिल्ली में एक रैली के दौरान वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने नारे लगवाए थे,  ‘देश के गद्दारों को’, जिस पर भीड़ ने कहा था, “गोली मारो... को.’  ठाकुर ने रिठाला से बीजेपी उम्मीदवार मनीष चौधरी के समर्थन में एक जनसभा में शाहीनबाग में चल रहे सीएए विरोधी प्रदर्शन और कथित देश विरोधी नारों से विपक्षी पार्टियों को जोड़ते हुए भीड़ से विवादित नारे लगाने को कहा था.

यह भी पढ़ें :-

CAA के खिलाफ स्कूली बच्चों ने किया नाटक,स्कूल प्रशासन के खिलाफ राजद्रोह का केस

अगर किसी सरकारी जमीन पर मंदिर बना होगा तो उसे भी हटाएंगे: परवेश वर्मा

CAA पर PM मोदी ने क्यों किया पाकिस्तान के इस विज्ञापन का ज़िक्र?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 28, 2020, 6:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर