पाकिस्‍तान की हिमाकत, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लिए एयरस्पेस खोलने से किया इनकार

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ( Ramnath kovind) सोमवार से अपनी आइसलैंड, स्विटजरलैंड और स्लोवेनिया की यात्रा शुरू करेंगे.

News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 10:25 PM IST
पाकिस्‍तान की हिमाकत, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लिए एयरस्पेस खोलने से किया इनकार
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सोमवार से अपनी तीन देशों की यात्रा शुरू करने जा रहे हैं.
News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 10:25 PM IST
नई दिल्ली. पाकिस्तान (Pakistan) ने एयरस्पेस खोलने के भारतीय आग्रह को ठुकरा दिया है. दरअसल, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram nath kovind) अपने आइसलैंड दौरे के लिए पाकिस्तानी एयरस्पेस का इस्तेमाल करना चाहते थे. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने शनिवार को भारत के निवेदन को अस्वीकार करने की जानकारी दी.

पाकिस्तान विदेश मंत्री ने इसकी जानकरी मीडिया को देते हुए बताया कि कश्मीर में तनावपूर्ण स्थिति के मद्देनजर प्रधानमंत्री इमरान खान ने यह निर्णय लिया है.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की आइसलैंड, स्विटजरलैंड और स्लोवेनिया की यात्रा सोमवार से शुरू होगी. भारतीय राष्ट्रीय उत्तरदायित्व के तहत दोनों देशों के उच्च स्तरीय नेतृत्व को यात्रा की जानकारी देना एक औपचारिकता है. वहीं मौजूदा हालात और आतंकी हमले के खतरे को देखते हुए यह और भी जरूरी हो जाता है.

बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद बंद है पाक एयरस्पेस

गौरतलब है कि कश्मीर में पुलवामा आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने पर भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी शिविरों को नष्ट किया था, जिसके बाद पाकिस्तान ने 26 फरवरी को अपने हवाई क्षेत्र को पूरी तरह से बंद कर दिया था.

मार्च में सिविलियन ट्रैफिक के लिए खोला
हालांकि मार्च में पाकिस्तान के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने अपने भारी नुकसान को देखते हुए आंशिक रूप से एयरस्पेस को खोल दिया था, लेकिन भारतीय उड़ानों के लिए इसे प्रतिबंधित रखा था. इसके बाद से भारतीय विमान यहां से नहीं गुजर रहे थे. पाकिस्तान के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने इसे लेकर देर रात 12.41 बजे एक नोटिस जारी किया, जिसमें कहा गया कि ‘तत्काल प्रभाव से पाकिस्तान का हवाई क्षेत्र सभी सिविलियन ट्रैफिक के लिए खुला.’
Loading...

अहम एविएशन कॉरिडोर के बीच स्थित है पाक
हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी विदेश यात्रा के दौरान पाकिस्तानी एयरस्पेस का इस्तेमाल नहीं किया था. लेकिन उस दौरान पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस उनकी यात्रा के लिए खोल दिया था. दरअसल पाकिस्तान अहम एविएशन कॉरिडोर के बीच में पड़ता है. इससे हर दिन सैकड़ों यात्री और मालवाहक विमानों की उड़ानों पर असर पड़ रहा था. इससे एयरलाइंस को ईंधन पर ज्यादा खर्च उठाना पड़ रहा था.

वहीं, यात्रियों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में पहले से ज्यादा समय लग रहा था. इसके अलावा पाकिस्तान को भी इससे भारी नुकसान उठाना पड़ रहा था. एक अनुमान के मुताबिक पाकिस्तान को एक फ्लाइट से औसतन 500 डॉलर मिलते थे, लेकिन एयरस्पेस बंद होने के बाद से ये कमाई बंद हो गई थी.

ये भी पढ़ें: 

NSA अजीत डोवाल बोले- आर्टिकल 370 विशेष दर्जा नहीं, लोगों के साथ भेदभाव था

चंद्रयान-2 से संपर्क टूटने के बाद रो पड़े ISRO के चीफ, PM मोदी ने गले लगाकर बढ़ाया हौसला, देखें वीडियो

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 7, 2019, 4:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...