पाकिस्तान ने संघर्ष विराम समझौते के दो माह बाद फिर सीमा पर की गोलीबारी

पाकिस्तान से लगी सीमा की निगरानी करते बीएसएफ के जवान. (पीटीआई फाइल फोटो)

पाकिस्तान से लगी सीमा की निगरानी करते बीएसएफ के जवान. (पीटीआई फाइल फोटो)

भारत और पाकिस्तान के बीच इस साल की शुरुआत में हुए संघर्षविराम समझौते के बाद सीमा पार से की गई यह पहली गोलीबारी थी. भारतीय सैनिकों ने भी इसका मुंहतोड़ जवाब दिया.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. पाकिस्‍तान (Pakistan) की ओर से एक बार फिर संघर्षविराम (Ceasefire) का उल्‍लंघन करते हुए सांबा सेक्‍टर में गोलीबारी किया गया. इस साल की शुरुआत में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए संघर्षविराम समझौते के बाद सीमा पार से की गई यह पहली गोलीबारी थी. प्राप्त जानकारी के मुताबिक,  पाकिस्तान रेंजर्स (Pak Rangers) की तरफ से बीएसएफ (BSF) की चौकियों को निशाना बनाकर फायरिंग (Firing) की गई है. पाकिस्‍तान की ओर से हुई फायरिंग में किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है. पाकिस्‍तान की ओर से फायरिंग को देखते हुए बीएसएफ ने इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है.

जानकारी के मुताबिक, सांबा सेक्टर के रामगढ़ इलाके में सुबह 6 बजे फायरिंग शुरू हो गई. पाकिस्‍तानी सेना की ओर से बीएसएफ की पट्रोलिंग पार्टी को निशान बनाया गया है. पाकिस्‍तान की ओर पिछले कई महीनों से हो रही फायरिंग को देखते हुए दो महीने पहले ही दोनों देशों के बीच सीजफायर समझौता हुआ था. हालांकि पाकिस्‍तान ने एक बार फिर समझौते का उल्‍लंघन करते हुए फायरिंग की है.



इसे भी पढ़ें :- Corona संकट से जूझ रहे भारत को पाकिस्तान ने मदद देने की पेशकश दोहराई
बता दें कि भारत और पाकिस्तान ने इस साल 25 फरवरी को अपने युद्धविराम समझौते पर फिर से हस्ताक्षर किए थे. इससे पहले नवंबर 2003 में दोनों देशों के बीच सहमति बनी थी. 200 किलोमीटर लंबी अंतरराष्ट्रीय सीमा और 744 किलोमीटर लंबी एलओसी के पास रहने वाले किसान पाकिस्‍तान की गोलीबारी का सबसे ज्‍यादा शिकार होते हैं.

Youtube Video


इसे भी पढ़ें :- पाकिस्‍तान ने बातचीत की फिर जताई इच्‍छा, कहा- भारत कुछ फैसलों पर पुनर्विचार करे



नए युद्धविराम समझौते के बाद, कठुआ जिले और जम्मू जिले के हीरानगर सेक्टर में किसान 18 साल के बाद गेहूं की खेती कर रहे थे, लेकिन पाकिस्‍तान की ओर से जिस तरह से एक बार फिर फायरिंग की गई है, उससे किसानों में एक बार फिर डर बैठ गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज