लाइव टीवी

कश्मीर में हमले से लेकर पुलिसवाले की हत्या तक, पाक ने तीन आतंकी संगठनों को बांटा काम

News18Hindi
Updated: October 7, 2019, 3:52 PM IST
कश्मीर में हमले से लेकर पुलिसवाले की हत्या तक, पाक ने तीन आतंकी संगठनों को बांटा काम
आतंकी हमलों की साजिश के मद्देनजर सभी सुरक्षाबलों को स्‍टैंडर्ड ऑपरेटिंग सिस्‍टम (SOP) का पालन करने और इंटेलीजेंस एजेंसियों, स्‍थानीय पुलिस व सेना के साथ संपर्क बनाए रखने की हिदायत दे दी गइ है.

पुलवामा (Pulwama) की एक अनजान जगह पर पिछले सप्‍ताह हुई बैठक में आंतकी संगठनों (Terror Organisations) को उनके आकाओं ने भारत में दहशत फैलाने का हुक्‍म दिया है. तीनों संगठनों को अलग-अलग जिम्‍मेदारियां सौंपी गई हैं. भारतीय इंटेलीजेंस एजेंसियों (Intelligence Agenicies) ने चेतावनी जारी की है कि पाकिस्‍तान समर्थित (Pakistan Supported) ये आतंकी संगठन कश्‍मीर घाटी (Kashmir Valley) समेत भारत के अलग-अलग शहरों में पुलिसकर्मियों (Police Personnel) और नेताओं (Politicians) को निशाना बनाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 7, 2019, 3:52 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu-Kashmir) से अनुच्‍छेद-370 (Article-370) हटाए जाने के बाद से पाकिस्‍तान (Pakistan) इस कदर बौखलाया हुआ है कि अब उसकी सेना (Pak Army) और खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) ने तीन शीर्ष आतंकी संगठनों (Terror Outfit) लश्‍कर-ए-तैयबा, हिजबुल मुजाहिदीन और जैश-ए-मोहम्‍मद को घाटी (Kashmir Valley) समेत पूरे देश में दहशत (Terror Attack) फैलाने का जिम्‍मा सौंप दिया है. आतंकी संगठनों को कश्‍मीर और भारत के दूसरे हिस्‍सों में पुलिसकर्मियों (Police Offiers) और नेताओं (Politicians) को निशाना बनाने का निर्देश दिया गया है.

पुलवामा में हुई तीनों संगठनों की बैठक में आकाओं ने दिया हुक्‍म
ANI के पास मौजूद दस्‍तावेजों के मुताबिक, पिछले सप्‍ताह पुलवामा (Pulwama) की एक अनजान जगह पर हुई बैठक में तीनों आंतकी संगठनों (Terror Organisations) को उनके आकाओं ने भारत में दहशत फैलाने का हुक्‍म दिया.

दस्‍तावेजों के मुताबिक, तीनों संगठनों के आतंकियों को भविष्‍य की रणनीति के तहत अलग-अलग जिम्‍मेदारियां सौंपी गई हैं. इंटेलीजेंस एजेंसियों ने चेतावनी (Alert) जारी की है कि पाकिस्‍तान समर्थित (Pakistan Supported) ये आतंकी संगठन कश्‍मीर घाटी (Kashmir Valley) समेत भारत के अलग-अलग शहरों में पुलिसकर्मियों (Police Personnel) और नेताओं (Politicians) को निशाना बनाएंगे.

तीनों आतंकी संगठनों को दी गई हैं अलग-अलग जिम्‍मेदारियां
इंटेलीजेंस एजेंसियों (Intelligence Agenicies) के अलर्ट के मुताबिक, जैश-ए-मोहम्‍मद (JeM) को नेशनल हाईवे (National Highway) पर आतंकी हमले करने का जिम्‍मा दिया गया है. वहीं, लश्‍कर (LeT) को देश के आतंरिक सुरक्षा प्रतिष्‍ठानों (Internal security Installations) पर हमला करने की जिम्‍मेदारी दी गई है.

इसके अलावा हिजबुल मुजाहिदीन को जगह-जगह माहौल बिगाड़ने और पुलिसकर्मियों व राजनीतिक दलों के नेताओं की हत्‍या का जिम्‍मा सौंपा गया है. हिजबुल को माहौल बिगाड़ने के साथ ही आम नागरिकों को निशाना बनाने का निर्देश भी दिया गया है. इसके अलावा तीनों आतंकी संगठन कश्‍मीर घाटी में बंद (Shutdown) कराएंगे और जरूरत पड़ने पर हमले भी करेंगे.
Loading...

सुरक्षाबलों को स्‍टैंडर्ड ऑपरेटिंग सिस्‍टम का पालन करने की हिदायत
पुलवामा में हुई बैठक और उसमें रची गई साजिश के मद्देनजर सभी सुरक्षाबलों को स्‍टैंडर्ड ऑपरेटिंग सिस्‍टम (SOP) का पालन करने और इंटेलीजेंस एजेंसियों, स्‍थानीय पुलिस व सेना के साथ संपर्क बनाए रखने की हिदायत दे दी गई है.

जम्‍मू-कश्‍मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह (DGP Dilbagh Singh) ने सितंबर में बताया था कि पाकिस्‍तान समर्थित आतंकी संगठन लश्‍कर (LeT), जैश (JeM) और हिजबुल (Hizbul Mujahideen) स्‍थानीय लोगों को रोजमर्रा के काम नहीं करने के लिए धमका रहे हैं. ये आतंकी संगठन नहीं चाहते हैं कि कश्‍मीर के माहौल में सुधार हो. ये लोगों पर दुकानें और पेट्रोल पंप बंद रखने का दबाव बना रहे हैं. बावजूद इसके घाटी में पेट्रोल पंप खुले हैं. साथ ही यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि जो लोग दुकानें खोल रहे हैं उन्‍हें किसी तरह की परेशानी न हो.

ये भी पढ़ें- 

कांग्रेस पर कंट्रोल का मास्‍टरप्‍लान हो सकती है राहुल की कंबोडिया यात्रा
गांधी परिवार की SPG सुरक्षा में केंद्र ने किया बदलाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 7, 2019, 2:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...