लाइव टीवी

दिल्ली में दिखे पाक विदेश सचिव, इमरान खान और नरेंद्र मोदी की मुलाकात की अटकलें तेज

News18Hindi
Updated: June 6, 2019, 11:47 AM IST
दिल्ली में दिखे पाक विदेश सचिव, इमरान खान और नरेंद्र मोदी की मुलाकात की अटकलें तेज
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

उम्मीद है कि अगले हफ्ते किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में दोनों देशों के प्रधानमंत्री की मुलाकात के प्रयास किए जा रहे हैं.

  • Share this:
क्या भारत और पाकिस्तान के बीच एक बार फिर बातचीत शुरू होने वाली है? क्या पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दोनों देशों के बीच बिगड़े रिश्तों को सुधारने का प्रयास एक बार फिर शुरू करने वाले हैं? इन सभी बातों को उस समय हवा मिली जब पाकिस्तान के विदेश सचिव और भारत में उसके पूर्व उच्चायुक्त सोहेल महमूद भारत आए. पकिस्तान के विदेश सचिव सोहेल महमूद ने जिस तरह गुपचुप भारत का दौरा किया है, उससे दोनों देशों के बीच एक बार फिर बातचीत शुरू होने की अटकलें तेज हो गई हैं. उम्मीद लगाई जा रही है कि अगले हफ्ते किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में दोनों देशों के प्रधानमंत्री की मुलाकात के प्रयास किए जा रहे हैं.

पिछले साल अप्रैल में भारत से इस्लामाबाद लौटे महमूद को ईद के मौके परदिल्ली की जामा मस्जिद में नमाज पढ़ते देखा गया. इस मौके पर उनके साथ दिल्ली में मौजूद पाकिस्तान के वरिष्ठ राजनयिक भी मौजूद थे. हालांकि इस मसले पर न तो भारत के विदेश मंत्रालय के पास कोई सूचना थी और न ही पाकिस्तान के हाई कमीशन को कोई जानकारी थी.

इसे भी पढ़ें :- पुलवामा में आतंकवादियों ने ईद मना रहे लोगों पर बरसाईं गोलियां, महिला की मौत 

गुपचुप यात्रा को लेकर अटकलें



बताया जाता है कि जिस तरह से पाकिस्तान विदेश सचिव की यात्रा हुई है उससे अब अटकलें तेज हो गई हैं. कयास लगाया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की किर्गिस्तान में शंघाई संगठन के शिखर सम्मेलन के दौरान मुलाकात हो सकती है. बताया जाता है कि महमूद पाकिस्तान के विदेश सचिव बनने से पहले भारत में उसके हाई कमिशनर थे. प्रधानमंत्री मोदी और इमरान खान को 13-14 जून को वार्षिक एससीओ शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेना है.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दूसरी बार सत्ता में वापसी के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने उन्हें फोनकर बधाई दी थी और दोनों देशों के रिश्ते सुधारने की बात कही थी. हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि जब तक पाकिस्तान अपनी जमीन से आतंकवाद को खत्म नहीं करता तब तक दोनों देशों के बीच रिश्ते मजबूत नहीं हो सकते.

इसे भी पढ़ें :- चीन को पछाड़ भारत बनेगा दुनिया में सबसे ज्यादा तेज़ी से ग्रोथ करने वाला देश: वर्ल्ड बैंक

बातचीत बंद है बालाकोट हमले के बाद से
गौरतलब है कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले में 40 से ज्यादा जवानों की मौत हो गई थी. हमले के 13 दिन बाद ही भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयरस्ट्राइक कर जैश के आतंकी कैंप पर हमला किया था. इस हमले में काफी आतंकियों के मारे जाने की भी सूचना है. इन हमलों के बाद से दोनों देशों के बीच बातचीत पूरी तरह से बंद हो गई थी.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 6, 2019, 11:21 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर