भारत पर चीन के साइबर अटैक में पाकिस्तानी हैकर्स कर रहे हैं मदद

साइबर अटैक के जरिए भारत के गोपनीय डेटा चुराने की कोशिश की जा रही है.  (सांकेतिक तस्वीर)
साइबर अटैक के जरिए भारत के गोपनीय डेटा चुराने की कोशिश की जा रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

क्विक हील की साइबर सिक्योरिंग विंग के मुताबिक इस साइबर अटैक (Cyber Attack) में इस्तेमाल किए गए सिग्नेचर टूल्स ट्रांसपैरेंट ट्राइब (Transparent Tribe) की संलिप्तता की तरफ इशारा करते हैं. ऐसे इशारे मिल रहे हैं कि ट्रांसपैरेंट ट्राइब के हैकर भारत का डेटा चुराने में चीन की मदद कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 28, 2020, 9:32 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. खतरनाक साइबर अटैक कैंपेन ऑपरेशन साइडकॉपी (Operation Sidecopy) के पीछे संदेहास्पद पाकिस्तान हैकर ग्रुप ट्रांसपरेंट ट्राइब (Transparent Tribe) का हाथ होने की बात सामने आ रही है. इस साइबर अटैक के जरिए भारत का इंफ्रास्ट्रक्चर संबंधी और रणनीतिक डेटा चुराने की कोशिश की जा रही है. क्विक हील की साइबर सिक्योरिंग विंग के मुताबिक इस साइबर अटैक में इस्तेमाल किए गए सिग्नेचर टूल्स इस अटैक में ट्रांसपैरेंट ट्राइब की संलिप्तता की तरफ इशारा करते हैं. ऐसे इशारे मिल रहे हैं कि ट्रांसपैरेंट ट्राइब के हैकर भारत का डेटा चुराने में चीन की मदद कर रहे हैं.

ये अटैक मुख्य रूप से भारत पर ही किए जा रहे हैं
न्यूज18 से बातचीत में क्विक हील सिक्योरिटी लैब्स के डायरेक्टर हिमांशु दुबे ने बताया कि साइड कॉपी साइबर अटैक 2019 से ही लगातार जारी हैं. ये अटैक मुख्य रूप से भारत पर ही किए जा रहे हैं. इन हमलों के केंद्र में डेटा की चोरी है. जिस तरह से ये साइबर अटैक किए जा रहे हैं वो भारत की साइबर सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

निष्कर्षों को सरकार के साथ साझा कर दिया गया
क्विक हील की साइबर सिक्योरिटी विंग के कल्पेश मंत्री, पवन चौधरी और गौतम त्रिपाठी ने कुछ उदाहरणों से साफ किया है कि इन हमलों के पीछे ट्रांसपैरेंट ट्राइब का हाथ हो सकता है. डायरेक्टर हिमांशु दुबे ने बताया है कि सभी निष्कर्षों को सरकार के साथ साझा कर दिया गया है. इनका इस्तेमाल कर सरकार आगे की कार्रवाई कर सकती है जिससे गोपनीय डेटा को सुरक्षित रखा जा सके.





डेटा चुराने की कोशिश
गौरतलब है कि भारत के साथ सीमा विवाद के बीच चीन की तरफ साइबर सिक्योरिटी में सेंध लगाने की कोशिश की जा रही है. साइबर अटैक्स के जरिए भारत के प्रमुख सेक्टर्स से संबंधित जानकारी समेत पब्लिक ओपिनियन जानने की कोशिश भी जा रही है. कहा जा रहा है कि इसमें चीन का साथ पाकिस्तानी हैकर्स ग्रुप भी दे रहे हैं.

(शौविक दास की स्टोरी से इनपुट्स साथ साथ. डिटेल स्टोरी यहां क्लिक कर पढ़ी जा सकती है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज