लाइव टीवी

पाकिस्‍तान आतंकवादियों को पहना रहा है सेना की वर्दी, भारत में घुसपैठ की ये है प्‍लानिंग

Sandeep Bol | News18Hindi
Updated: October 30, 2019, 7:44 PM IST
पाकिस्‍तान आतंकवादियों को पहना रहा है सेना की वर्दी, भारत में घुसपैठ की ये है प्‍लानिंग
फिलहाल भारत ने सतर्कता और बढ़ा दी है.

पाकिस्‍तान आए दिन एलओसी पर सीजफायर वायलेशन (Ceasefire Violations) करता रहता है. सूत्रों के मुताबिक 22 अक्टूबर को पाकिस्तान सेना (Pakistan Army) की ब्रिगेड में आईएसआई (ISI) और आतंकियों (Terrorists) की बैठक बुलाई गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2019, 7:44 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. जब-जब भारत (India) ने पाकिस्तान को पीटा है, चाहे बालाकोट (Balakot) हो या फिर तंगधार. सीजफायर वायलेशन (Ceasefire Violations) के कारण पाकिस्तान की फौज के डीजी आईएसपीआर को तुरंत गाइडेड टूर का मौक़ा मिल जाता है. यानी पाकिस्तान अलग-अलग देशों के डिप्लोमेटे और मीडिया को लेकर एलओसी पर पहुंच जाता है. अब भविष्य में किसी भी विज़िट से पहले पाक सेना ने अपनी जमीनी तैयारी शुरू कर दी है. 22 अक्टूबर  को पाकिस्तान सेना (Pakistan Army) की ब्रिगेड में आईएसआई और आतंकियों (ISI and Terrorists) की बड़ी बैठक बुलाई गई. इस बैठक का मुद्दा दुनिया की नज़रों से आतंकियों को छिपाना और भारतीय सेना (Indian Army) पर हमले का तरीका ढूंढना था.

खुफ़िया रिपोर्ट में हुआ खुलासा हुआ है कि पीओके के कोट कटेरा में पाकिस्तान सेना की 642 मुजाहिद ब्रिगेड बैठक हुई. इसमें आईएसआई और पाक सेना के अधिकारियों समेत सभी आतंकी तंजीमों के एरिया कमांडर मौजूद थे.

आईएसआई की ये है साजिश
आईएसआई ने आतंकी तंजीमों के कमांडरों को हुक्म दिया कि जितने भी आतंकी हैं वो पाकिस्तानी मिलेट्री स्टेशन में सेना की वर्दी में रहें. जानकारों की मानें तो ये पाकिस्तान की फ़ौज की दुनिया के उन तमाम देशों के राजनयिकों की आंखों में धूल झोंकने की तैयारी है, जिन्हें पाक सेना भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई के बाद विज़िट पर लेकर जाती है. जबकि इस बैठक में आतंकियों को ताक़ीद दी गई है कि बैट एक्शन और भारतीय सेना पर हमले के लिए हर संभव रास्तों और जगह की रेकी करें.

पाक सैन्य अधिकारी कर रहे हैं एलओसी का दौरा

सूत्रों के मुताबिक 26 अक्टूबर को पाक सेना के 10 कोर के जीओसी ने सकर्दू के 6 पीओके ब्रिगेड का दौरा किया. ठीक इसी दिन पाक सेना के डीजीएमओ ने पीओके के रखचकरी और चिरिकोट के 19 सिंध ब्रिगेड का भी दौरा किया. इसी तरह के दौरे के दौरान रावलाकोट के 2 पीओके ब्रिगेड, भिंबर के 4 पीओके ब्रिगेड और मुज़फ़्फ़राबाद के 5 पीओके ब्रिगेड पर भी सेना के बड़े अधिकारी नजर आए. जबकि खुफिया जानकारी में ये भी खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान एलओसी पर आतंकियों के लिए बंकर तक बनवा रहा, ताकि भारतीय सेना की फायरिंग से बच सकें.

LOC पर मौजूद हैं आतंकी
Loading...

सूत्रों के मुताबिक मच्छिल सेक्टर के दूसरी ओर पीओके बरवान में 5 गुट आतंकियों के मौजूद हैं. इन्हीं आतंकियों की घुसपैठ के लिए पाकिस्तान की सेना ने 29 अक्टूबर की रातभर सीजफायर का उल्‍लंघन कर गोली बारी की और भारतीय नागरिकों को निशाना बनाया. पाकिस्तान की तरफ़ से हुए सीजफायर में एक भारतीय नागरिक की मौत और सात अन्य घायल हो गए थे. मच्छिल सेक्टर में एलओसी के पास टालीगांव को पाक सेना ने निशाना बनाया था.

बहरहाल, इस वक्‍त जैश के आतंकियों के पांच ग्रुप भारत में घुसपैठ के लिए तैयार हैं. जबकि बीजी सेक्‍टर के दूसरी ओर 24 से ज्‍यादा लश्‍कर और हिजबुल के आतंकी घुसपैठ के लिए बैठे हैं. हालांकि भारतीय सेना ने भी अपनी सर्तकता बढ़ा दी है.

यह भी पढ़ें: रेगिस्‍तान में करोड़ों डॉलर छिपाकर रखता था बगदादी, चरवाहों को मिली इतनी रकम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 7:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...