Home /News /nation /

लाहौर में जुलूस के दौरान भड़की हिंसा, पुलिस और इस्लामिक कट्टरपंथियों के बीच झड़प में 10 की मौत, 700 जख्मी

लाहौर में जुलूस के दौरान भड़की हिंसा, पुलिस और इस्लामिक कट्टरपंथियों के बीच झड़प में 10 की मौत, 700 जख्मी

पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार ने एक बयान में कहा, टीएलपी कार्यकर्ताओं के साथ संघर्ष में तीन पुलिसकर्मी मारे गए. (फाइल फोटो)

पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार ने एक बयान में कहा, टीएलपी कार्यकर्ताओं के साथ संघर्ष में तीन पुलिसकर्मी मारे गए. (फाइल फोटो)

टीएलपी (TLP) के पदाधिकारी इब्न-ए-इस्माइल ने कहा, लाहौर (Lahore) में पुलिस की गोलीबारी में टीएलपी के सात कार्यकर्ता मारे गए और 700 से अधिक लोग अभी तक जख्मी हुए हैं. लाहौर के बाहरी इलाके राणा टाउन में शनिवार को पुलिस और रेंजरों की टीएलपी कार्यकर्ताओं के साथ झड़प हुई.

अधिक पढ़ें ...

    लाहौर: लाहौर में पुलिस और कट्टरपंथी इस्लामी सदस्यों (Islamic Fundamentalists) के बीच झड़प में शनिवार को छह और लोगों की मौत होने के साथ ही मृतकों की संख्या दस हो गई. तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (TLP) के आठ हजार से अधिक कार्यकर्ताओं ने अपनी पार्टी के प्रमुख साद हुसैन रिजवी की रिहाई और फ्रांस के राजदूत को पैगंबर मोहम्मद (Prophet Muhammad) के कार्टून (Cartoon Issue) के मुद्दे पर निष्कासन की मांग को लेकर इस्लामाबाद (Islamabad) तक के लिए जुलूस की शुरुआत की, जिस दौरान दोनों पक्षों के बीच झड़प हुई. मरने वालों में तीन पुलिसकर्मी और सात टीएलपी के कार्यकर्ता थे.

    पंजाब के मुख्यमंत्री कार्यालय ने पुष्टि की कि शनिवार को एक और पुलिसकर्मी की मौत हो गई, जबकि टीएलपी ने दावा किया कि लाहौर में प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने पांच और कार्यकर्ताओं को मार डाला. एक दिन पहले पुलिसकर्मियों और इस्लामी कट्टरपंथियों के बीच हुई हिंसक झड़प में दो पुलिसकर्मियों और दो कट्टरपंथियों की मौत हो गई थी.

    700 से अधिक लोग हुए जख्मी
    टीएलपी के पदाधिकारी इब्न-ए-इस्माइल ने कहा, लाहौर में पुलिस की गोलीबारी में टीएलपी के सात कार्यकर्ता मारे गए और 700 से अधिक लोग अभी तक जख्मी हुए हैं. लाहौर के बाहरी इलाके राणा टाउन में शनिवार को पुलिस और रेंजरों की टीएलपी कार्यकर्ताओं के साथ झड़प हुई.

    लाहौर पुलिस के एक सूत्र ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, शाहदरा और आसपास के इलाके युद्धभूमि में तब्दील हो गए. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े, जबकि प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया.

    शव दफनाने जा रहे थे प्रदर्शनकारी
    उन्होंने कहा कि रेंजर पुलिस बल के पीछे रहे और प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने में उन्होंने सीधे तौर पर हिस्सा नहीं लिया. उन्होंने कहा, कुछ प्रदर्शनकारी मरने वालों का शव इस्लामाबाद में दफनाने पर जोर दे रहे थे जिसके बाद अधिकारियों ने उन्हें लाहौर से बाहर जाने की अनुमति दी.

    सूत्र ने बताया कि करीब आठ हजार टीएलपी कार्यकर्ताओं को लाहौर छोड़ने की अनुमति’’ दी गई. उन्होंने कहा, ‘‘इस्लामी कार्यकर्ता बस, कार, मोटरसाइकिल, पैदल और संघर्ष के दौरान पुलिस से छीनी गई गाड़ियों में राजधानी की तरफ जा रहे हैं.

    खबर लिखे जाने तक टीएलपी का कारवां लाहौर से 45 किलोमीटर दूर काला शाह काकू इलाके से गुजर रहा था. लाहौर लगातार दूसरे दिन देश से शेष हिस्सों से कटा रहा क्योंकि कानून प्रवर्तन एजेंसियों ने सभी प्रवेश एवं निकास बिंदुओं को जाम कर दिया है. शहर के अधिकतर इलाकों में शाम तक इंटरनेट और मोबाइल सेवाएं बंद थीं.

    पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार ने एक बयान में कहा, टीएलपी कार्यकर्ताओं के साथ संघर्ष में तीन पुलिसकर्मी मारे गए. हम उनकी कुर्बानी को सलाम करते हैं. पुलिसकर्मियों की हत्या में संलिप्त लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने संघर्ष में घायल पुलिसकर्मियों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के निर्देश दिए.

    इस बीच गृह मंत्री शेख राशिद अहमद प्रधानमंत्री इमरान खान के निर्देश पर स्वदेश लौट गए जो भारत और पाकिस्तान के बीच रविवार को होने वाले टी-20 क्रिकेट विश्व कप का मैच देखने के लिए दुबई गए हुए थे. पंजाब सरकार के एक अधिकारी ने कहा, राशिद और दो अन्य मंत्री लाहौर में टीएलपी के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ बातचीत कर रहे हैं.

    Tags: Lahore, Pakistan, Pakistan news, Violence

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर