लाइव टीवी

शशि थरूर बोले- देश के अंदर BJP-कांग्रेस में भले ही मतभेद हों, देश के बाहर हम एक

भाषा
Updated: September 21, 2019, 11:36 PM IST
शशि थरूर बोले- देश के अंदर BJP-कांग्रेस में भले ही मतभेद हों, देश के बाहर हम एक
नरेंद्र मोदी के बारे में थरूर ने कहा कि उन्हें वह मिलना चाहिए जिसका एक लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित प्रधानमंत्री हकदार है.

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और केरल की तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट से सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने शनिवार को कहा कि कश्मीर मुद्दे (Kashmir Issue) पर भारत (India) की आलोचना करने के लिये पाकिस्तान (Pakistan) “सबसे अयोग्य” देश है.

  • भाषा
  • Last Updated: September 21, 2019, 11:36 PM IST
  • Share this:
पुणे. वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और केरल की तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट से सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने शनिवार को कहा कि कश्मीर मुद्दे (Kashmir Issue) पर भारत (India) की आलोचना करने के लिए पाकिस्तान (Pakistan) 'सबसे अयोग्य' देश है. खासतौर पर पाक अधिकृत कश्मीर (Pakistan Occupied Kashmir) में उसके खुद के रिकॉर्ड को देखते हुए.

पुणे अंतरराष्ट्रीय साहित्य महोत्सव (Pune International Literary Festival) में केरल (Kerala) से लोकसभा सांसद ने कहा कि जब देश की विदेश नीति की बात आती है तो राजनीतिक दलों के बीच मतभेद मायने नहीं रखते.

केंद्र सरकार की आलोचना का अधिकार
थरूर ने कहा, 'मैं एक निहित संदेश बाहर भेजना पसंद करूंगा. देश के अंदर हमारे बीच भले मतभेद हों लेकिन जब बात भारत के हितों की आती हैं तब यह भाजपा की विदेश नीति या कांग्रेस की विदेश नीति नहीं रहती. यह भारत की विदेश नीति है.' उन्होंने कहा कि उन्हें जम्मू कश्मीर पर लोगों और राज्य के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के साथ हुए बर्ताव के लिए (केंद्र) सरकार की आलोचना का अधिकार है.

थरूर ने कहा, 'मैं घरेलू मुद्दों पर सरकार पर निशाना साधता रहूंगा, लेकिन जब अंतरराष्ट्रीय स्थिति की बात आती है तो मुझे लगता है कि कश्मीर मुद्दे पर भारत की निंदा के लिए पाकिस्तान सबसे अयोग्य है. देखिये पाक अधिकृत कश्मीर में उन्होंने क्या किया.'

पीएम मोदी के लिए कही ये बात
नरेंद्र मोदी के बारे में थरूर ने कहा कि उन्हें वह मिलना चाहिए जिसका एक लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित प्रधानमंत्री हकदार है. उन्होंने कहा, “हम उनकी राजनीति पसंद करें या नहीं, फिर भी वह देश के लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित प्रधानमंत्री हैं और जब वह विदेश जाते हैं तो भारत के प्रधानमंत्री हैं और वह हमारा झंडा (राष्ट्रीय ध्वज) ले जाते हैं. मैं चाहता हूं कि उसी सम्मान के साथ उनकी अगवानी और व्यवहार हो जिसके हकदार मेरे देश के प्रधानमंत्री हैं.'
Loading...

कांग्रेस सांसद ने कहा कि यह कहकर वह न सिर्फ प्रधानमंत्री की संस्था के प्रति सम्मान प्रदर्शित कर रहे हैं बल्कि भारतीय मतदाताओं के प्रति भी सम्मान व्यक्त कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें-
Assembly Election: क्या हरियाणा में 'जाति गणित' से बाहर निकल पाएंगी पार्टियां?

महाराष्‍ट्र-हरियाणा के साथ इन 64 सीटों पर हैं 'चुनाव',जानें अपने राज्‍य की सीट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 21, 2019, 11:24 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...