Home /News /nation /

पाकिस्तान आतंकियों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई करे, जो सबको नजर आए: रक्षा मंत्री

पाकिस्तान आतंकियों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई करे, जो सबको नजर आए: रक्षा मंत्री

रक्षा मंत्री ने पाकिस्तान से आतंकी समूहों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई करने को कहा है, जो सभी को दिखाई दे (फाइल फोटो, PTI)

रक्षा मंत्री ने पाकिस्तान से आतंकी समूहों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई करने को कहा है, जो सभी को दिखाई दे (फाइल फोटो, PTI)

रक्षा मंत्री (Defence Minister) ने कहा कि पाकिस्तान को आतंकी समूहों (Terrorist Groups) के खिलाफ ऐसे कदम जरूर उठाने चाहिए जो सबको नजर आएं. राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने समावेश और एकता के बारे में भारत के विचार पर जोर देते हुए कहा कि भारत ने हमेशा वसुधैव कुटुम्बकम के दर्शन को अपनाया है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. रक्षा मंत्री (Defence Minister) राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने वार्ता के जरिए शांतिपूर्ण तरीके से विवाद सुलझाने के बजाए भारत (India) के खिलाफ ‘‘आतंकवाद को राज्य नीति’’ के तौर पर इस्तेमाल के लिए पाकिस्तान (Pakistan) पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवादी समूहों (Terrorist Groups) के खिलाफ ऐसा कदम जरूर उठाना चाहिए, जो सबको नजर आए.

    सिंह ने 12 वें दक्षिण एशिया सम्मेलन (South Asia Conference) को संबोधित करते हुए कहा कि यह जरूरी है कि आतंकवादी (Terrorist) और उनका वैचारिक और वित्तीय नेटवर्क (Economic Network) टूटे और उन्हें सरकार का समर्थन ना मिले.

    आतंकवाद को हराने के लिए दक्षिण एशियाई क्षेत्र के प्रयासों का एकजुट होना जरूरी
    रक्षा मंत्री ने कहा, ‘‘क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा (Regional Peace and Security) के मद्देनजर संयुक्त दृष्टिकोण विकसित करने के लिए भारत एक देश को छोड़कर अपने पड़ोसियों के साथ संवाद करता रहता है.’’ क्षेत्रीय सुरक्षा कायम करने के लिए एक-दूसरे की संवेदनाओं को समझना और हस्तक्षेप नहीं करने के सिद्धांतों का पालन करना आवश्यक है.

    सिंह ने कहा कि दक्षिण एशियाई क्षेत्र को आतंकवाद को हराने के लिए अपने प्रयासों में जरूर एकजुट होना चाहिए. मुंबई, पठानकोट, उरी और पुलवामा हमले (Pulwama Attack) पड़ोसी देश द्वारा राज्य प्रायोजित आतंकवाद की बर्बर याद दिलाते हैं .

    'पाकिस्तान आतंकी समूहों के खिलाफ उठाए ऐसे कदम, जो सभी को नजर आएं'
    रक्षा मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान को आतंकी समूहों (Terrorist Groups) के खिलाफ ऐसे कदम जरूर उठाने चाहिए जो सबको नजर आएं. सिंह ने समावेश और एकता के बारे में भारत के विचार पर जोर देते हुए कहा कि भारत ने हमेशा वसुधैव कुटुम्बकम के दर्शन को अपनाया है.

    उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में देश के पड़ोस को अपनी विदेश नीति (Foreign Policy) की सबसे महत्वपूर्ण प्राथमिकता के तौर पर चिन्हित किया गया है .

    '2014 और 2019 के शपथ ग्रहण में पड़ोस को मिली तवज्जो'
    केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 2014 में अपने शपथ ग्रहण समारोह में दक्षेस के नेताओं को आमंत्रित किया था और 2019 के शपथ ग्रहण में बिम्सटेक नेताओं को बुलाया गया, यह पड़ोस को तवज्जो दिए जाने का संकेत है .

    भारत की ‘पड़ोस पहले नीति : क्षेत्रीय धारणा’ पर 12 वें दक्षिण एशिया कॉन्फ्रेंस (South Asia Conference) में उन्होंने कहा कि भारत पड़ोस में शांति और समृद्धि को अपने विकास और स्वहित में महत्वपूर्ण मानता है .

    रक्षा अध्ययन एवं विश्लेषण संस्थान (IDSA) ने सम्मेलन का आयोजन किया था. इसमें भूटान के राजदूत वी नामग्याल और प्रधानमंत्री के पूर्व मीडिया सलाहकार संजय बारू ने भी शिरकत की.

    यह भी पढ़ें: पुलवामा हमले के बाद CPRF की सिक्योरिटी ड्रिल हुई बेहतर, किए गए ये इंतजाम

    Tags: Defence Minister, Pulwama, Rajnath Singh, South asia, Terrorism, Terrorist, Uri Attack

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर