पाकिस्‍तान ने भारत पर लगाया 'झूठा' आरोप, राजनयिक को तलब कर दी ये सलाह

महानिदेशक (दक्षिण एशिया एवं दक्षेस) एवं विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि नियंत्रण रेखा एवं कामकाजी सीमा के पास भारतीय बल, लगातार भारी हथियारों के जरिये नागरिक बहुल इलाकों को निशाना बना रहे हैं.

भाषा
Updated: July 29, 2019, 7:03 PM IST
पाकिस्‍तान ने भारत पर लगाया 'झूठा' आरोप, राजनयिक को तलब कर दी ये सलाह
पाकिस्‍तान का आरोप है कि भारत ने 2017 से अब तक 1970 बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया है. (फाइल फोटो)
भाषा
Updated: July 29, 2019, 7:03 PM IST
पाकिस्तान ने भारत के उप उच्चायुक्त को सोमवार को तलब किया और भारतीय सेना की ओर से नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर कथित तौर पर 'बिना किसी उकसावे के किये जा रहे संघर्ष विराम उल्लंघनों' की निंदा की.

विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा कि महानिदेशक (दक्षिण एशिया एवं दक्षेस) एवं विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने गौरव अहलूवालिया को तलब किया और नियंत्रण रेखा के पास भारतीय बलों द्वारा बिना उकसावे के किए जा रहे संघर्ष विराम उल्लंघनों की निंदा की.

यहां हुआ संघर्ष विराम का उल्‍लंघन
बयान में बताया गया कि रविवार को नेजापीर सेक्टर में हुई गोलीबारी में मंधार गांव की एक महिला की मौत हो गई थी और तीन अन्य घायल हो गए. उसी दिन एलओसी के पास कैलर सेक्टर में की गई गोलीबारी में एक अन्य नागरिक घायल हो गया.

पाकिस्‍तान ने आरोप लगाया गया है कि भारत की तरफ से संघर्षविराम उल्लंघनों में अप्रत्याशित बढ़ोतरी 2017 से जारी है और अब तक भारतीय बलों ने 1970 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया.


पाक प्रवक्‍ता ने कही ये बात
महानिदेशक (दक्षिण एशिया एवं दक्षेस) एवं विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि नियंत्रण रेखा एवं कामकाजी सीमा के पास भारतीय बल, लगातार भारी हथियारों के जरिये नागरिक बहुल इलाकों को निशाना बना रहे हैं.
Loading...

साथ ही उन्‍होंने कहा, 'भारत की ओर से किए जा रहे संघर्ष विराम उल्लंघन क्षेत्रीय शांति एवं सुरक्षा के लिए खतरा हैं और यह सामरिक गलत अनुमान का कारण बन सकता है.'

फैसल ने भारत को दी ये सलाह
साथ ही फैसल ने कहा है कि नियंत्रण रेखा और कामकाजी सीमा पर शांति बरकरार रखने के लिए भारत को 2003 की संघर्ष विराम व्यवस्था का सम्मान करनाा चाहिए. इसके साथ उन्‍होंने संघर्ष विराम उल्लंघन की नई एवं अन्य घटनाओं की जांच करने के साथ संघर्ष विराम का सम्मान करने का भारतीय बलों को निर्देश देने की भी अपील की है.

ये भी पढ़ें-सरकार ने पोंजी स्‍कीमों को बैन करने वाले विधयेक को दी मंजूरी, पुलिस को मिली ये बड़ी ताकत

वक्‍फ प्रॉपर्टी को लेकर सरकार ने उठाया बड़ा कदम, 100 दिन में होगा ये काम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 29, 2019, 5:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...