पाक ने संघर्षविराम उल्लंघन की कथित घटनाओं को लेकर वरिष्ठ भारतीय राजनयिक को तलब किया

पाक ने संघर्षविराम उल्लंघन की कथित घटनाओं को लेकर वरिष्ठ भारतीय राजनयिक को तलब किया
संघर्षविराम का उल्लंघन कर पाक ने वरिष्ठ भारतीय राजनयिक को तलब किया (सांकेतिक फोटो)

पाकिस्तान ने आरोप लगाया गया कि भारतीय बल (Indian force) ‘‘नियंत्रण रेखा (LoC) और कामकाजी सीमा पर स्थित रिहायशी इलाकों को तोप के गोले (Cannon shells), मोर्टार के गोले (Mortar shells) और स्वचालित हथियारों (Automatic weapons) से लगातार निशाना बना रहे हैं.’’

  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान (Pakistan) ने रविवार को नियंत्रण रेखा (LoC) पर भारतीय बलों (Indian Force) द्वारा संघर्ष विराम उल्लंघन (Ceasefire violation) किये जाने का आरोप लगाते हुए इस पर विरोध दर्ज कराने के लिए यहां भारतीय उच्चायोग (Indian High Commission) के एक वरिष्ठ राजनयिक (Senior diplomat) को तलब किया. विदेश मंत्रालय (Ministry of Foreign Affairs) की ओर से जारी बयान में कहा गया कि शनिवार को नियंत्रण रेखा पर स्थित रखचिकरी सेक्टर (Rakhchikri Sector) में बिना उकसावे के अंधाधुंध गोलीबारी (Firing) के कारण एक आम नागरिक (Common Citizen) गंभीर रूप से घायल हो गया.

इसमें आरोप लगाया गया कि भारतीय बल (Indian force) ‘‘नियंत्रण रेखा (LoC) और कामकाजी सीमा पर स्थित रिहायशी इलाकों को तोप के गोले (Cannon shells), मोर्टार के गोले (Mortar shells) और स्वचालित हथियारों (Automatic weapons) से लगातार निशाना बना रहे हैं.’’ बयान में दावा किया गया कि इस वर्ष संघर्ष विराम उल्लंघन (Ceasefire violation) की 2,158 घटनाएं हुई हैं जिनमें 17 लोगों की जान चली गई तथा 168 लोग घायल हो गए.

यह भी पढ़ें: IIT दिल्ली को चाहिए डॉग हैंडलर, बीटेक और कार होना अनिवार्य, सैलरी 45 हजार



जम्मू-कश्मीर के पुंछ में पाकिस्तानी सेना ने और दो इलाकों में गोलाबारी की
जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास दो सेक्टरों में भारी गोलीबारी और गोलाबारी करके बुधवार को दोनों देशों के बीच हुए संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन किया. रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘आज शाम करीब पौने सात बजे (18:45) पाकिस्तानी सेना ने बिना किसी उकसावे के संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन करते हुए नियंत्रण रेखा पर किरनी और कसबा सेक्टर में गोलीबारी और गोलाबारी की.’’ उन्होंने बताया कि भारतीय सेना ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज