'कश्मीर एकजुटता दिवस' के रूप में 14 अगस्त को अपना स्वतंत्रता दिवस मनायेगा पाकिस्तान

पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) ने कहा कि इस साल पाकिस्तान (Pakistan) अपना स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) कश्मीरी लोगों के साथ एकजुटता प्रकट करने के तौर पर मनायेगा.

भाषा
Updated: August 11, 2019, 11:26 PM IST
'कश्मीर एकजुटता दिवस' के रूप में 14 अगस्त को अपना स्वतंत्रता दिवस मनायेगा पाकिस्तान
इस साल पाकिस्तान अपना स्वतंत्रता दिवस कश्मीरी लोगों के साथ एकजुटता प्रकट करने के तौर पर मनायेगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
भाषा
Updated: August 11, 2019, 11:26 PM IST
पाकिस्तान (Pakistan) 14 अगस्त को अपना स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) ‘‘कश्मीर एकजुटता दिवस’’ के रूप में मनायेगा. पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) ने रविवार को यह कहा. कुरैशी ने कहा कि इस साल पाकिस्तान अपना स्वतंत्रता दिवस कश्मीरी लोगों के साथ एकजुटता प्रकट करने के तौर पर मनायेगा. उनका यह बयान ईद उल जुहा (Eid-Ul-Adha) से पहले आया है.

गौरतलब है कि भारतीय विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) ने नई दिल्ली में शुक्रवार को कहा था, ‘‘उसकी (पाकिस्तान की) तरफ से वे दहशत वाला माहौल बनाना चाहेंगे, जबकि अंतरराष्ट्रीय समुदाय नहीं मानता है कि युद्ध जैसी कोई स्थिति है. यह ध्यान बंटाने की साजिश है. पाकिस्तान के लिए नयी सच्चाई देखने और भारत के अंदरूनी मामलों में दखल देना बंद करने का यही समय है.’’

इमरान खान ने भी ट्वीट के ज़रिए निकाली भड़ास
कुरैशी ने कहा कि कश्मीर घाटी में कर्फ्यू (Curfew) और कड़ी कार्रवाई के चलते सभी देशों ने यात्रा परामर्श जारी किया है और वहां पर्यटन कारोबार बंद हो गया है. इस बीच, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने रविवार को ट्वीट किया कि भारत का कदम कश्मीर में हिंदू सर्वोच्चता कायम कर वहां की जनसांख्यिकी को बदलने का प्रयास है. उन्होंने अंतरराष्ट्रीय बिरादरी से इसका संज्ञान लेने की अपील की. यही नहीं इमरान खान ने दुनिया के दूसरे देशों से पूछा कि क्या विश्व इसे चुपचाप देखता रहेगा? म्यूनिख में जैसे हिटलर को लेकर चुप थे, वैसे ही हिंदुस्तान पर भी चुप रहेंगे?

आर्टिकल 370 हटाने और राज्य पुर्नगठन पर बौखलाया है पाक
गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 (Article 370) के ज्यादातर प्रावधानों को भारत सरकार द्वारा रद्द किये जाने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों (Union Territory) में बांटे जाने के कदम पर पाकिस्तान ने तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की थी. उसने राजनयिक संबंधों (Diplomatic Relations) को कमतर कर दिया और दोनों देशों के बीच व्यापार रोक दिया.

वहीं पाकिस्तान में भारत के उच्चायुक्त अजय बिसारिया (Indian High Commissioner Ajay Bisaria) देश वापस आ गए हैं. केन्द्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीरके विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को निरस्त किए जाने के बाद पाकिस्तान ने भारत के साथ अपने राजनयिक संबंधों  के स्तर को घटाते हुए बिसारिया को निष्कासित कर दिया था.
Loading...

ये भी पढ़ें-
इमरान को नहीं मिला किसी का साथ, तो ट्विटर पर गिड़गिड़ाने लगे

MEA का पाक को करारा जवाब, कहा- वास्तविकता स्वीकार कर लें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 11, 2019, 11:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...