लाइव टीवी

वकार यूनुस का बड़ा बयान, अगर नहीं हो पाया ये काम, तो 7 महीने बाद छोड़ देंगे पाकिस्‍तान टीम का साथ!

News18Hindi
Updated: March 20, 2020, 10:20 PM IST
वकार यूनुस का बड़ा बयान, अगर नहीं हो पाया ये काम, तो 7 महीने बाद छोड़ देंगे पाकिस्‍तान टीम का साथ!
वकार यूनुस ने कहा कि वह अपने लक्ष्‍य की समीक्षा करेंगे (फाइल फोटो)

वकार यूनुस (Waqar Younis) ने पिछले साल अक्‍टूबर में ही पाकिस्‍तान टीम के गेंदबाजी कोच की जिम्‍मेदारी संभाली थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 20, 2020, 10:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. पाकिस्‍तान के दिग्‍गज कप्‍तान और मौजूदा गेंदबाजी कोच वकार यूनुस (Waqar Younis) ने कहा कि अगर उनसे निर्धारित लक्ष्य हासिल नहीं हो पाए तो उन्हें इस्तीफा देने से भी गुरेज नहीं होगा.
वकार का पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के साथ तीन साल का अनुबंध है. उन्होंने कहा कि वह एक साल के बाद गेंदबाजी कोच के तौर पर अपने प्रदर्शन की समीक्षा करेंगे.
उन्होंने यूट्यूब चैनल ‘क्रिकेटबाज’ से कहा कि वह एक साल के बाद खुद की समीक्षा करेंगे और स्पष्ट कर देंगे कि अगर वह अपना काम अच्छी तरह नहीं करते हैं तो वह अपने पद के साथ न्याय नहीं कर पाएंगे और अपने पद से इस्तीफा दे देंगे. उन्‍होंने कहा कि उनके निर्धारित लक्ष्य हैं.







बेहतरीन गेंदबाज मिले
उन्‍होंने कहा कि पिछले साल अक्‍टूबर में गेंदबाजी कोच की जिम्‍मेदारी संभालने के बाद वह संतुष्‍ट थे. उन्‍होंने कहा कि टीम को शाहीन शाह, नसीम शाह जैसे कुछ युवा बेहतरीन तेज गेंदबाज मिले हैं और अभी उनकी नजर और टैलेंट पर है. उन्‍होंने यह भी साफ कर दिया है कि टैलेंट खोजने का मतलब ये नहीं है कि वह घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने वालों को नजरअंदाज कर रहे हैं.


इशांत, बुमराह और शमी के फैन हैं यूनुस

पाकिस्‍तान दिग्‍गज गेंदबाज वकार यूनुस (Waqar Younis) भारतीय तेज गेंदबाजों की तिकड़ी इशांत शर्मा (Ishant Sharma), जसप्रीत बुमराह और मोहम्‍मद शमी के फैन हैं. वह पहली भी कह चुके हैं इस तिकड़ी के दम पर ही टीम इंडिया टेस्‍ट क्रिकेट में नंबर एक पर पहुंंची है. उन्‍होंने माना कि टीम इंडिया (Team India) ने काफी मेहनत की है और इसी वजह से उन्‍हें  ऐसे गेंदबाज मिले हैं. इससे पहले कोई भी भारतीय गेंदबाज इतनी तेज गति से गेंद नहीं फेंक पाते थे. मगर यह तिकड़ी 140 से अधिक रफ्तार से गेंद फेंकती हैं.

(भाषा इनपुट के साथ)





News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2020, 10:18 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर