OPINION: भारत की मजबूत विदेश नीति के कारण दुनिया भर में अलग-थलग पड़ा पाक

नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार की मजबूत विदेश नीति का ही असर है कि पाकिस्तान इस पूरे मामले पर अलग-थलग पड़ गया है. इस पूरे मामले पर पाकिस्तान दुनिया के हर देश का दरवाजा खटखटा चुका है लेकिन उसे कहीं से उम्मीद मिलती नहीं दिख रही है.

Anil Rai | News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 6:32 PM IST
OPINION: भारत की मजबूत विदेश नीति के कारण दुनिया भर में अलग-थलग पड़ा पाक
नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)
Anil Rai
Anil Rai | News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 6:32 PM IST
जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में अनुच्छेद 370 (Article 370) को हटाने और राज्य के पुनर्गठन के फैसले के बाद भारत ने एक बार फिर दिखा दिया है कि अपने आंतरिक मामलों के साथ-साथ पिछले पांच साल में वह दुनिया के मंच पर कितना मजबूत हुआ है. मोदी सरकार की मजबूत विदेश नीति का ही असर है कि पाकिस्तान इस पूरे मामले पर अलग-थलग पड़ गया है. इस पूरे मामले पर पाकिस्तान दुनिया के हर देश का दरवाजा खटखटा चुका है लेकिन उसे कहीं से उम्मीद मिलती नहीं दिख रही है. भारत की मजबूत विदेश नीति का ही असर है कि मुस्लिम देशों से भी पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को कोई मदद नहीं मिल रही है. संयुक्त अरब अमीरात, मालदीव जैसे मुस्लिम देश इस फैसले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ खड़े दिख रहे हैं. वहीं भारत के पड़ोसी श्रीलंका ने भी भारत सरकार के इस फैसले का समर्थन किया है.

अमेरिका ने भी दिया संयमित बयान
भारत की विदेश नीति का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि कुछ दिन पहले तक भारत-पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता की बात करने वाला का अमेरिका भी इस मामले पर संयमित बयान दे रहा है. चीन ने भले ही इस मामले में जल्दबाजी में कूदने की कोशिश की लेकिन भारत सरकार की मजबूत प्रक्रिया के बाद चीन भी बैकफुट पर है. साफ है पाकिस्तान भले ही इस मामले पर अंतरराष्ट्रीय मंचों पर कितना भी रोना रोये लेकिन भारत की मजबूत विदेश नीति के कारण उसे दुनिया भर में कहीं से भी इस मामले में समर्थन मिलता नजर नहीं आ रहा है.

नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)


मोदी कार्यकाल में मजबूत हुई विदेश नीति
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विदेश यात्रा अक्सर चर्चा में रहती है. विपक्ष इस पर लगातार आरोप भी लगाता है लेकिन मोदी सरकार के पिछले 5 साल के कार्यकाल को देखें तो एक बात साफ है कि भारत की विदेश नीति में आक्रमक बदलाव आया है. सोशल मीडिया के इस दौर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुनिया में बसे हर भारतीय नागरिक को ये विश्वास दिलाने में सफल हुए हैं कि वे जहां भी हैं भारत सरकार उनके साथ है. ऐसे में कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाए जाने के फैसले के बाद दुनिया भर में बसे भारतीय भी काफी खुश हैं. साथ ही जिस तरह दुनिया ने इस फैसले पर मोदी का साथ दिया है, उससे दुनिया भर में बसे भारतीय गर्व का अनुभव कर रहे हैं.

मोदी के फैसले से दुनिया भर में बसे कश्मीरी खुश
Loading...

पिछली यूरोप यात्रा के दौरान रोम में मेरी मुलाकात एक कश्मीरी परिवार से हुई थी. जुलाई के अंतिम सप्ताह तक किसी को भी उम्मीद नहीं थी कि प्रधानमंत्री मोदी इतना बड़ा फैसला ले सकते हैं, लेकिन 370 हटाने और जम्मू-कश्मीर को दो हिस्सों में बांटने के फैसले के बाद इटली में बसे उस डॉक्टर दंपति का फोन जब मेरे पास आया तो देश से करीब 6 हजार किलोमीटर दूर बसे उस परिवार के उत्साह का सिर्फ अंदाजा ही लगाया जा सकता है. साथ ही पिछले तीन दिनों से यूरोप के अलग-अलग हिस्सों से उन लोगों के फोन आ रहे हैं जिनसे मैं पिछली यात्रा में मिला था और वो सारे फोन 370 हटाने पर मोदी सरकार को बधाई देने के लिए आ रहे हैं. साफ है सरकार के इस फैसले ने विदेश में बसे भारतीयों का सम्मान बढ़ा दिया है.

ये भी पढ़ें - 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 8, 2019, 6:19 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...