लाइव टीवी

पंजाब के फिरोजपुर में फिर उड़ते दिखे पाकिस्तानी ड्रोन, बीएसएफ कर रही तलाश

News18Hindi
Updated: October 10, 2019, 1:58 PM IST
पंजाब के फिरोजपुर में फिर उड़ते दिखे पाकिस्तानी ड्रोन, बीएसएफ कर रही तलाश
पंजाब से दो पाकिस्तानी ड्रोन बरामद हुए हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

सीमा सुरक्षा बल (BSF) और पंजाब पुलिस ड्रोन (Drone) का पता लगाने का प्रयास कर रही है. बीते कुछ दिनों में कई बार पाकिस्तानी ड्रोन पंजाब की सीमा (Punjab border) पर दिखाई दिए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 10, 2019, 1:58 PM IST
  • Share this:
जाब (Punjab) के फिरोजपुर (Ferozepur) में एक बार फिर पाकिस्तानी ड्रोन (Pakistani Drone)देखे जाने की खबर है. झुंझारा हजारा सिंह वाला के सीमावर्ती गांव में गुरुवार सुबह दो ड्रोन (Drone) उड़ते दिखाई दिए. स्थानीय लोगों के मुताबिक ड्रोन गांव के पास ही दुर्घटनाग्रस्त हो गए. सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और पंजाब पुलिस ड्रोन का पता लगाने का प्रयास कर रही है. बीते कुछ दिनों में कई बार पाकिस्तानी ड्रोन पंजाब की सीमा पर दिखाई दिए हैं.

सोमवार रात भी पंजाब के हुसैनीवाला सेक्टर में दो पाकिस्तानी ड्रोन भारतीय सीमा में घुसे थे. दोनों ही पाकिस्तानी ड्रोन बस्ती रामलाल की बॉर्डर आउट पोस्ट और हुसैनीवाला की एचके टावर पोस्ट के करीब देखे गए थे. बताया जाता है कि ये दोनों ही ड्रोन जमीन से मात्र एक किलोमीटर ऊपर उड़ते दिखाई दिए थे. पहला ड्रोन 10 बजे से लेकर 10:40 के बीच में देखा गया जबकि दूसरा ड्रोन रात के 12:25 बजे पंजाब के पास दिखाई दिया था.



पाक ने ड्रोन से भेजे थे हथियार

बता दें पिछले दिनों पंजाब पुलिस की ओर से कहा गया था कि तरनतारन में हाई लिफ्टिंग ड्रोन के जरिये पाकिस्‍तान की ओर से ड्रोन के जरिये एके 47, गोलियां, सैटेलाइट फोन, ग्रेनेड और नकली करंसी भारतीय सीमा पर गिराई गई थीं. सूत्रों ने न्‍यूज18 को बताया कि यह हथियार और अन्‍य सामान पाकिस्‍तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने ड्रोन के जरिये भेजे थे. इनका मकसद पंजाब में 26/11 जैसे हमले को अंजाम देने की योजना थी. सूत्रों के अनुसार इन ड्रोन में जीपीएस भी लगे थे. ऐसी आशंका जताई गई थी कि हथियार और गोला-बारूद भेजने में 8 ड्रोन का इस्‍तेमाल किया गया.

सितंबर में बरामद हुए थे ड्रोन
इससे पहले सितंबर के आखिर में पंजाब सरकार (Punjab Government) ने बताया था कि उसने दो पाकिस्तानी ड्रोन (Pakistani Drone) बरामद किए हैं, जिनका इस्तेमाल सीमा पार से हथियारों को यहां पहुंचाने के लिए किया गया था. एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया था कि एक ड्रोन पिछले महीने बरामद किया गया था जबकि दूसरा तरनतारन के झाबल कस्बे से जली हुई हालत में बरामद हुआ.
Loading...

चीन की कंपनी ने किया ड्रोन का निर्माण
प्रवक्ता ने बताया था कि जांच में पाया गया कि बरामद ड्रोन का मॉडल ‘यू10 केवी100-यू’ था और इसका डिजाइन और निर्माण चीनी कंपनी टी मोटर्स ने किया था. इसमें ईंट के आकार की चार बैटरियां भी लगी हुईं मिलीं. जांच में सामने आया कि इस तरह के हेक्साकॉप्टर ड्रोन में 21 किलोग्राम की पेलोड क्षमता होती है और ये अलग-अलग पुर्जों को जोड़कर बनाया गया हो सकता है. बाद में इसकी तकनीकी जांच करने पर पाया गया कि क्रैश लैंडिंग की वजह से 20 से 25 किलोग्राम का यह ड्रोन क्षतिग्रस्त हो गया था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 10, 2019, 1:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...