Parliament: सरकार ने मानसून सत्र के पहले दिन राज्यसभा में पांच विधेयक पेश किए

Parliament: सरकार ने मानसून सत्र के पहले दिन राज्यसभा में पांच विधेयक पेश किए
सरकार ने संसद के मानसून सत्र के पहले दिन सोमवार को राज्यसभा में मंत्रियों के वेतन में कटौती के प्रावधान वाले विधेयक सहित पांच विधेयक पेश किए.

Parliament Monsoon Session Day 1: लोकसभा की कार्यवाही आज सुबह 9 से दोपहर 1 बजे तक, जबकि राज्यसभा की दोपहर 3 से शाम 7 बजे तक चली. बाकी दिनों में राज्यसभा की कार्यवाही सुबह की पाली में सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक संचालित होगी, वहीं लोकसभा दोपहर 3 बजे से शाम 7 बजे तक बैठेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 14, 2020, 11:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) महामारी के बीच आज से संसद के मॉनसून सत्र (Monsoon Session) की शुरुआत हो गई. संक्रमण के चलते इस सत्र में आधा दिन लोकसभा और आधा दिन राज्यसभा की कार्यवाही होनी है. सुबह 9 बजे लोकसभा की कार्यवाही शुरू हुई, सबसे पहले पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को श्रद्धांजलि दी गई. लोकसभा की कार्यवाही कल दोपहर तीन बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई. सत्र के पहले दिन राज्यसभा में उपसभापति पद के लिए चुनाव हुआ. विपक्ष की ओर से राजद नेता मनोज झा और एनडीए से जदयू नेता हरिवंश के बीच कांटे की टक्कर रही जिसमें की हरिवंश नारायण को कामयाबी मिली और वह दोबारा सभापति चुने गए.

सरकार ने संसद के मानसून सत्र के पहले दिन सोमवार को राज्यसभा में मंत्रियों के वेतन में कटौती के प्रावधान वाले विधेयक सहित पांच विधेयक पेश किए. गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने मंत्रियों के वेतन और भत्ते (संशोधन) विधेयक, 2020 पेश किया. उच्च सदन की कार्यसूची के अनुसार यह विधेयक गृह मंत्री अमित शाह द्वारा पेश किया जाना था. सरकार ने इसी वर्ष मंत्रियों के वेतन और भत्ते (संशोधन) अध्यादेश, 2020 जारी किया था जिसमें कोरोना वायरस के मद्देनजर मंत्रियों के भत्तों में 30 प्रतिशत तक कटौती का प्रावधान था.

ये भी पढ़ें- जासूसी कर रहा ड्रैगन, राष्ट्रपति, पीएम समेत 10 हजार लोगों पर चीन की नज़र



स्वास्थ्य मंत्री ने पेश किये ये बिल
स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने महामारी रोग (संशोधन) विधेयक, 2020 किया. यह विधेयक पारित होने पर इसी साल जारी अध्यादेश का स्थान लेगा जो स्वास्थ कर्मियों की सुरक्षा से संबंधित है. हर्षवर्धन ने केन्द्रीय होम्योपैथी परिषद (संशोधन) विधेयक, 2020 और भारतीय केंद्रीय चिकित्सा परिषद (संशोधन) विधेयक, 2020 भी पेश किया.

नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने वायुयान (संशोधन) विधेयक, 2020 चर्चा एवं पारित करने के लिए कहा. यह विधेयक संसद के पिछले सत्र में लोकसभा में पारित हो चुका है. ये सभी विधेयक सदन की कार्यवाही समाप्त होने से कुछ मिनट पहले पेश किए गए.

ये भी पढ़ें- Delhi Violence: दिल्‍ली पुलिस को मिली उमर खालिद की 10 दिन की रिमांड

इस सत्र में पेश होंगे 23 बिल
वहीं संसद ने सोमवार को दो विधेयकों को मंजूरी दी जिसमें एक होम्योपैथी शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर एवं वहनीय बनाने तथा दूसरा देश भर में भारतीय चिकित्सा पद्धति से जुड़े पेशेवरों से संबंधित हैं. लोकसभा ने सोमवार को राष्ट्रीय होम्योपैथी आयोग विधेयक और भारतीय आयुर्विज्ञान प्रणाली आयोग विधेयक 2020 को मंजूरी दी. राज्यसभा में यह पहले की पारित हो चुका है. अब निचले सदन से अनुमोदन के बाद तथा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की मंजूरी के पश्चात कानून बन जायेगा.

लोकसभा की कार्यवाही आज सुबह 9 से दोपहर 1 बजे तक हुई, जबकि राज्यसभा की दोपहर 3 से शाम 7 बजे तक चली. बाकी दिनों में राज्यसभा की कार्यवाही सुबह की पाली में सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक संचालित होगी, वहीं लोकसभा दोपहर 3 बजे से शाम 7 बजे तक बैठेगी. सरकार की नजर 23 विधेयकों पर चर्चा और इसे पारित कराने पर है. इसमें 11 ऐसे विधेयक भी हैं जो अध्यादेशों का स्थान लेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज