होम /न्यूज /राष्ट्र /

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन बोले- 13 राज्यों में कोरोना के ज्यादा केस, लेकिन भारत में स्थिति बेहतर

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन बोले- 13 राज्यों में कोरोना के ज्यादा केस, लेकिन भारत में स्थिति बेहतर

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 18 दिन के मॉनसून सत्र के पहले दिन लोकसभा में कोरोना वायरस के मामलों में भारत की स्थिति और इससे लड़ने के लिए सरकार की तैयारियों की जानकारी दी.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 18 दिन के मॉनसून सत्र के पहले दिन लोकसभा में कोरोना वायरस के मामलों में भारत की स्थिति और इससे लड़ने के लिए सरकार की तैयारियों की जानकारी दी.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Harsh Vardhan in Lok Sabha) ने 18 दिन के मॉनसून सत्र के पहले दिन लोकसभा में कोरोना वायरस (Coronavirus Cases in India) के मामलों में भारत की स्थिति और इससे लड़ने के लिए सरकार की तैयारियों की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि ज्यादातर नए केस और मौतें महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, यूपी, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, बिहार, तेलंगाना, ओडिशा, असम, केरल और गुजरात से आ रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :
    नई दिल्ली. भारत दुनिया में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमितों (Coronavirus Cases in India) के मामले में दूसरे नंबर पर है. यही नहीं सबसे ज्यादा मौत के मामले में तीसरे नंबर पर है. भारत ऐसा दूसरा देश है जहां सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं. इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Harsh Vardhan in Lok Sabha) ने आज संसद में कहा कि देश में कोरोना के संक्रमण की दर कम है. उन्होंने कहा कि भारत में कोविड-19 के नए मामले और मौतों पर रोक लगाने में कामयाबी मिली है.

    स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 18 दिन के मानसून सत्र के पहले दिन लोकसभा में कोरोना वायरस के मामलों में भारत की स्थिति और इससे लड़ने के लिए सरकार की तैयारियों की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि ज्यादातर नए केस और मौतें महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, यूपी, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, बिहार, तेलंगाना, ओडिशा, असम, केरल और गुजरात से आ रहे हैं.

    आइए जानते हैं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने संसद में कोरोना वायरस महामारी को लेकर दी और कौन सी जानकारियां:-
    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज सदन को कोरोना वायरस के खिलाफ सरकार के कदमों की जानकारी दी. हर्षवर्धन ने कहा कि देश में कोरोना के हालात अब सुधरे हैं. देश में पीएम मोदी के नेतृत्व में कोरोना के खिलाफ सार्थक लड़ाई लड़ी जा रही है.
    डॉ. हर्षवर्धन ने लोकसभा में बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान 77,512 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं. देश में कोविड-19 से ठीक होने वालों की संख्या 37,80,107 तक हो गई है. कोरोना से ठीक होने वालों का प्रतिशत 78% हो गया है.
    हर्षवर्धन ने कहा कि 60 फीसदी से ज्यादा नए केस 5 राज्यों महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु से आ रहे हैं. कोरोना के खिलाफ देश एकजुट है. पर्याप्त मात्रा में कोरोना किट, दवाइयां और अन्य सुविधाएं उपलब्ध हैं.
    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़े के अनुसार देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 48,46,428 लाख हो चुकी है, जबकि 9,86,598 लाख एक्टिव केस हैं. 37,80,108 लोग इस बीमारी को मात दे चुके हैं. इस जानलेवा बीमारी ने देश में अब तक 79,722 लोगों की जान ले ली है. पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 92,071 नए केस सामने आए हैं और 1,136 लोगों की मौत हुई है.
    केंद्रीय मंत्री ने लोकसभा में कहा कि भारत में प्रति 10 लाख लोग 3,328 लोग कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं, जबकि प्रति 10 लाख मौतों का आंकड़ा 55 है. उन्होंने कहा कि कोरोना से प्रभावित दुनिया के देशों में यह सबसे कम है.
    लोकसभा में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि कोरोना काल में अब तक 15 लाख से ज्यादा लोगों की एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग की जा चुकी है. सरकार कोरोना से निपटने के लिए हर संभव कदम उठा रही है. देशभर के शहरों में कंटेनमेंट जोन बनाए ताकि लोगों को इस वायरस से बचाया जा सके.
    हर्षवर्धन ने कहा कि हमारे प्रयासों से देश में कोरोना पर रोकथाम लगी है, प्रति 10 लाख भारत में 3,328 केस हैं और 55 मौतें हुई हैं, दुनिया के अन्य देशों की तुलना में भारत में ये कम है, लोग जागरूक भी हैं और चीजों का ध्यान रखा जा रहा है.
    बता दें कि देश में कोरोना वायरस के संक्रमितों का आंकड़ा 48 लाख के पार हो गया है. बीते 24 घंटे के अंदर 92 हजार 071 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए. इसी के साथ कोरोना मरीजों की संख्या अब 48 लाख 46 हजार 428 पहुंच गई. अभी देश में 9 लाख 86 हजार 598 मरीजों का इलाज चल रहा है.

    Tags: Coronavirus Case in India, Harsh Vardhan, Lok sabha

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर