Farm Bills 2020: किसान बिल को लेकर 5 बजे राष्ट्रपति से मिलेंगे विपक्षी दलों के नेता

विपक्ष के 8 सांसदों को निलंबित करने के बाद से  विपक्ष की सभी पार्टियां संसद के दोनों सदनों का बहिष्कार कर रही हैं.
विपक्ष के 8 सांसदों को निलंबित करने के बाद से विपक्ष की सभी पार्टियां संसद के दोनों सदनों का बहिष्कार कर रही हैं.

Parliament Monsoon Session: विपक्ष की ओर से राष्ट्रपति (President Ramnath Kovind) से मिलने का वक्त मांगा गया था, जिसमें कृषि बिल (Farm Bills 2020) पर चिंता, राज्यसभा में हुए हंगामे, सांसदों के निलंबन के मसले पर चर्चा की बात कही गई थी. विपक्ष ने अपील की थी कि राष्ट्रपति कृषि बिल को वापस राज्यसभा में लौटा दें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 12:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. किसान बिल (Farm Bills 2020) को लेकर सरकार और विपक्ष के बीच जंग जारी है. बीते कुछ दिनों से कृषि विधेयकों को लेकर लोकसभा और राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ. राज्यसभा में रविवार को हुए बवाल के बाद सभापति वेंकैया नायडू ने विपक्ष के 8 सांसदों को पूरे मॉनसून सत्र के लिए निलंबित कर दिया है. तब से विपक्ष की सभी पार्टियां संसद के दोनों सदनों का बहिष्कार कर रही हैं. इस बीच शाम 5 बजे ही विपक्षी पार्टियां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) से मुलाकात करेंगी.

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, विपक्ष की ओर से राष्ट्रपति से मिलने का वक्त मांगा गया था, जिसमें कृषि बिल पर चिंता, राज्यसभा में हुए हंगामे, सांसदों के निलंबन के मसले पर चर्चा की बात कही गई थी. विपक्ष ने अपील की थी कि राष्ट्रपति कृषि बिल को वापस राज्यसभा में लौटा दें. बता दें कि मंगलवार को विपक्ष ने ऐलान किया था कि जबतक उनकी शर्तें नहीं मानी जाएंगी वो सदन का बहिष्कार करेंगे. विपक्ष की मांग है कि कृषि बिल को सिलेक्ट कमेटी को भेजा जाए, साथ ही निलंबित किए गए सांसदों का निलंबन वापसी हो. मंगलवार को ही विपक्ष की गैरमौजूदगी में सरकार ने कई बिल पास भी करवा लिए.

विपक्ष की साझा बैठक में कृषि बिल के विरोध को लेकर बनेगी आगे की रणनीति

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज