कांग्रेस के सभी 7 सांसदों का निलंबन वापस, स्पीकर से सभी दलों ने किया था अनुरोध

कांग्रेस के सभी 7 सांसदों का निलंबन वापस, स्पीकर से सभी दलों ने किया था अनुरोध
लोकसभा की कार्यवाही

बीते दिनों कांग्रेस के सात सांसदों गौरव गोगोई, टी.एन प्रतापन, एडवोकेट डीन कुरियाकोस, बेनी बेहनन, मणिक्कम टैगोर, राजमोहन उन्नीथन और गुरजीत सिंह औजला ने लोकसभा में दिल्ली हिंसा को लेकर हंगामा किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 11, 2020, 3:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला (Om Birla) ने बुधवार को कांग्रेस के सातों सदस्यों के निलंबन के आदेश को तत्काल प्रभाव से समाप्त करने की घोषणा की. सर्वदलीय बैठक में सभी दलों ने निलंबन वापस लेने का अनुरोध किया था, जिसके बाद ये फैसला लिया गया.

बीते दिनों कांग्रेस के सात सांसदों गौरव गोगोई, टी.एन प्रतापन, एडवोकेट डीन कुरियाकोस, बेनी बेहनन, मणिक्कम टैगोर, राजमोहन उन्नीथन और गुरजीत सिंह औजला ने लोकसभा में दिल्ली हिंसा को लेकर हंगामा किया था. इन कांग्रेस सांसदों पर स्पीकर पर पेपर फेंकने का आरोप है. इस घटना के बाद स्पीकर ने इन सांसदों को लोकसभा के बजट सत्र तक निलंबित कर दिया था. कांग्रेस ने इसपर कड़ी आपत्ति जाहिर की थी.

कांग्रेस के सात सांसदों के निलंबन का मामला बुधवार को संसद में उठाया गया. लोकसभा और राज्यसभा दोनों ही सदन में इस मामले पर जमकर हंगामा हुआ. कांग्रेस ने सासंदों का निलंबन वापस लेने की मांग की थी.





सदन में लौटे ओम बिड़ला
सर्वदलीय बैठक खत्म होने के बाद स्पीकर ओम बिड़ला सदन में लौट आए हैं. विपक्षी सांसदों के व्यवहार के कारण वह तीन दिन से सदन में नहीं आ रहे थे. कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने इसपर खुशी जाहिर की. उन्होंने कहा, 'आपको (ओम बिड़ला) दोबारा यहां देखकर खुशी हो रही है. कभी-कभी ऐसा कुछ हो जाता है जो हम नहीं चाहते हैं. हम भी चाहते हैं कि सदन की कार्यवाही अच्छे से चले. हम विरोध के मकसद से नहीं आते हैं. सांसदों के निलंबन पर उन्होंने कहा कि हो सकता है कुछ गलती हुई हो, लेकिन उसकी जांच होनी चाहिए.'

बता दें कि संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण का आज छठा दिन है. आज राज्यसभा और लोकसभा की कार्यवाही की शुरुआत हंगामे से हुई. जिसके बाद स्पीकर ने लोकसभा की कार्यवाही 1.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी. वहीं, राज्यसभा की कार्यवाही भी 2 बजे तक स्थगित कर दी गई है.

आज लोकसभा में दिल्ली हिंसा पर जवाब देंगे गृह मंत्री अमित शाह
दिल्ली हिंसा पर लोकसभा में बुधवार को नियम 193 के तहत चर्चा होगी. गृह मंत्री अमित शाह सदन में जवाब देंगे. कांग्रेस लंबे समय से इस मुद्दे पर चर्चा की मांग कर रही है और वह सदन की कार्यवाही बाधित कर रही है, लेकिन सरकार ने कहा कि इस मुद्दे पर चर्चा होली के बाद ही होगी.

ये भी पढ़ें: सियासत में हमेशा पावरफुल रहा है सिंधिया परिवार, जानिए फैमिली के सदस्यों के बारे में

MP का सियासी संग्राम: दिग्विजय ने किया ट्वीट- गांधी को मारने के लिए गोडसे को ग्वालियर से मिली थी रिवॉल्वर

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading