Home /News /nation /

विमान किराए से लेकर फ्लाइट में खाने तक- संसदीय समिति ने विमानन मंत्रालय से पूछे सवाल

विमान किराए से लेकर फ्लाइट में खाने तक- संसदीय समिति ने विमानन मंत्रालय से पूछे सवाल

संसदीय समिति ने कई मुद्दों पर नागरिक विमानन मंत्रालय से सवाल किए.(प्रतीकात्मक तस्वीर Reuters)

संसदीय समिति ने कई मुद्दों पर नागरिक विमानन मंत्रालय से सवाल किए.(प्रतीकात्मक तस्वीर Reuters)

संसदीय समिति के सदस्यों ने ने टिकट की ऊंची कीमत और सरकार द्वारा इस पर नियंत्रण ना करने को लेकर चिंता जाहिर की. उन्होंने दो घंटे से कम की घरेलू उड़ानों पर भी चिंता जताई. उन्होंने कहा कि इसमें यात्रियों के लिए भोजन की सुविधा नहीं देना भेदभाव है. सदस्यों ने पूछा- क्या कोई ऐसा आश्वासन है कि उन यात्रियों को कोविड नहीं होगा जो लोग 2 घंटे या उससे अधिक समयावधि की फ्लाइट में खाना ना खाएं.'

अधिक पढ़ें ...

    पायल मेहता
    नई दिल्ली.
    परिवहन, पर्यटन और संस्कृति के लिए विभाग से संबंधित स्थायी समिति (Standing Committee for Transport, Tourism and Culture) ने शुक्रवार को ‘मौजूदा स्थिति में नागरिक उड्डयन क्षेत्र को प्रभावित करने वाले मुद्दों’ पर चर्चा करने के लिए बैठक की. सदस्यों ने विमानन अधिकारियों की बैठक में विमान किराया और मूल्य सीमा से संबंधित कई सवाल पूछे. इस बैठक में नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सचिव भी शामिल थे. बैठक में मौजूद कई सदस्यों ने पूछा कि उड़ानों पर अभी भी एक सीमा क्यों है और विमानों की सामान्य उड़ानें कब से शुरू होंगी. मिली जानकारी के अनुसार नागरिक उड्डयन सचिव राजीव बंसल ने समिति को बताया कि मूल्य सीमा बबल सिस्टम के वजह से थी. यह अभी भी लागू है. भविष्य में संबंधित मंत्रालयों द्वारा फैसला लिया जाएगा.

    सदस्यों ने टिकट की ऊंची कीमत और सरकार द्वारा इस पर नियंत्रण ना करने को लेकर चिंता जाहिर की. मंत्रालय के अधिकारियों ने समिति को बताया कि विमानन ईंधन में वृद्धि सहित कई वजहों से टिकट के दाम बढ़े हैं. सदस्यों ने दो घंटे से कम की घरेलू उड़ानों पर भी चिंता जताई. उन्होंने कहा कि इसमें यात्रियों के लिए भोजन की कोई सुविधा नहीं है और कहा कि यह भेदभाव है.

    यह भी पढ़ें: टाटा को हस्तांतरण से पहले एयर इंडिया के वर्तमान मैनेजमेंट से बकाए के भुगतान की उम्मीद: आईपीजी

    छोटी फ्लाइट्स में खाने का मुद्दा उठा
    सदस्यों ने पूछा- क्या कोई ऐसा आश्वासन है कि उन यात्रियों को कोविड नहीं होगा जो लोग 2 घंटे या उससे अधिक समयावधि की फ्लाइट में खाना ना खाएं या उनको कोविड हो जाएगा जो 2 घंटे से कम की यात्रा कर रहे हैं और उनकी यात्रा में खाना सप्लाई किया गया हो.’

    नागरिक उ़ड्डयन मंत्रालय के सचिव ने समिति को बताया कि वह संबंधित अधिकारियों के सामने इस मुद्दे को रखेंगे. समिति के एक सदस्य ने सुझाव दिया कि वह विशेषज्ञ समितियां जो फ्लाइट्स में भोजन फिर से शुरू करने की सलाह दे रहीं, उन्हें भी अपना तर्क समझाने के लिए इस समिति के सामने पेश होना चाहिए. समिति के एक सदस्य एयर इंडिया के निजीकरण से चिंतित थे.

    उन्होंने पूछा कि एअर इंडिया के निजीकरण के बाद संसद सदस्यों को मिले विशेषाधिकारों का क्यो होगा. इस पर बंसल ने कहा कि वह इस संबंध में जानकारी हासिल करके अगले कुछ दिनों में समिति को लिखित में देंगे. एक अन्य सदस्य ने एअर इंडिया के कर्मचारियों विशेषकर उनके वेतन, स्वास्थ्य लाभ आदि के भविष्य पर चिंता व्यक्त की.

    Tags: Air india, Aviation News, Coronavirus in India, COVID 19

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर