जटिल मुद्दों के समाधान के लिए जेटली पर निर्भर रहती थी पार्टी: आडवाणी

News18Hindi
Updated: August 24, 2019, 5:59 PM IST
जटिल मुद्दों के समाधान के लिए जेटली पर निर्भर रहती थी पार्टी: आडवाणी
लाल कृष्ण आडवाणी ने अरुण जेटली को श्रद्धांजलि अर्पित की. (फाइल फोटो)

लाल कृष्ण आडवाणी (Lalkrishna Advani) ने कहा कि मैं अपने एक और सहयोगी अरुण जेटली (Arun Jaitley) के निधन से बेहद दुखी हूं. वह लीगल क्षेत्र की बड़ी हस्ती होने के साथ ही एक उत्कृष्ट सांसद और कुशल प्रशासक भी थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 24, 2019, 5:59 PM IST
  • Share this:
पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) का शनिवार दोपहर दिल्ली में निधन हो गया. वह काफी दिनों से बीमार चल रहे थे. सांस लेने में दिक्कत होने के बाद 9 अगस्त को उन्हें एम्स में भर्ती किया गया था. जेटली के निधन के बाद राजनीतिक जगत में शोक की लहर है. बीजेपी (BJP) और दूसरे राजनीतिक दलों के नेता जेटली के निधन पर शोक व्यक्त कर रहे हैं.

बीजेपी के वरिष्ठ नेत लालकृष्ण आडवाणी (Lalkrishna Advani) ने जेटली को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उनमें गजब की विश्लेषण क्षमता थी और जटिल मुद्दों के समाधान के लिए पार्टी हमेशा उन पर निर्भर रहती थी.

आडवाणी ने एक बयान में कहा, "मैं अपने एक और सहयोगी अरुण जेटली के निधन से बेहद दुखी हूं. वह लीगल क्षेत्र की बड़ी हस्ती होने के साथ ही एक उत्कृष्ट सांसद और कुशल प्रशासक भी थे."

आडवाणी ने कहा कि दशकों तक पार्टी कार्यकर्ता रहे जेटली ऐसे कई लोगों में से एक थे जो उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष रहने के दौरान बीजेपी की कोर टीम का हिस्सा बने और जल्दी ही पार्टी के प्रमुख नेताओं में शुमार हुए. उन्होंने कहा कि जेटली को उनके तेज विश्लेषणात्मक दिमाग के लिए जाना जाता था और जटिल मुद्दों के समाधान के लिए बीजेपी में हर कोई उन पर निर्भर रहता था.

आडवाणी ने कहा कि जेटली उन लोगों में शामिल थे जो दोस्ती का महत्व समझते थे. उन्होंने कहा कि वह बीते कुछ सप्ताह से अस्पताल में थे और हमें यकीन था कि वे वापस लौट आएंगे.

आडवाणी ने कहा कि जेटली का निधन बीजेपी और संघ परिवार के लिए ही नहीं बल्कि देश के लिए भी बड़ी क्षति है.

ये भी पढ़ें: कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा, देश के 4 महानतम स्पिनरों से भी बड़े स्‍पिनर थे अरुण जेटली

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 24, 2019, 5:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...