• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Jammu Airport Explosion: पठानकोट जैसे हमले की फिराक में थे आंतकी? ड्रोन के इस्तेमाल के चलते पाकिस्तान पर शक

Jammu Airport Explosion: पठानकोट जैसे हमले की फिराक में थे आंतकी? ड्रोन के इस्तेमाल के चलते पाकिस्तान पर शक

इस घटना की जांच के लिए एनआईए और एनएसजी की टीम जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पहुंच चुकी है.

इस घटना की जांच के लिए एनआईए और एनएसजी की टीम जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पहुंच चुकी है.

Jammu Airport Blast: जम्मू कश्मीर के पुलिस अधिकारी, फॉरेंसिक एक्सपर्ट और साथ में बाक़ी सुरक्षाकर्मी जांच में जुट गए हैं. सुरक्षा बलों ने इलाके को कुछ ही मिनटों में सील कर दिया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. जम्मू स्थित एयरफोर्स स्टेशन पर संदिग्ध ड्रोन हमले (Jammu Airport Blasts) के बाद सनसनी फैल गई है. इस हमले को लेकर पाकिस्तान (Pakistan) पर शक जताया जा रहा है. खुफिया एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक ऐसा प्रतीत होता है कि पाकिस्तान में बैठे आतंकी यहां पठानकोट जैसे ही हमले की फिराक में था. ऐसा ही हमला साल 2016 में पठानकोट में एयरपोर्ट के बेस पर किया गया था. बता दें कि ये हमला रविवार तड़के करीब 1 बजकर 40 मिनट पर किया गया. इस हमले में दो लोग घायल हो गए हैं. न्यूज़ 18 को खुफिया एजेंसी के सूत्रों ने बताया है कि उन्हें पूरा शक है कि इस हमले की सारी प्लानिंग सीमा के उस पार से की गई है.

    क्या हुआ था पठानकोट में?
    बता दें कि आज से 5 साल पहले यानी 2016 में जैश ए मोहम्मद के 4 से 6 आंतिकयों ने पठानकोट में एयरफोर्स के बेस पर हमला किया था. आतंकी रात के अंधेरे में एयरफोर्स के परिसर में दाखिल हुए थे. बाद में आतंकियों को वहां से निकालने के लिए सेना ने 36 घंटे से ज्यादा का ऑपरेशन चलाया था. इस दौरान पांच हमलावर को मौत के घाट उतार दिया गया था, जबकि इस ऑपरेशन में हमारे तीन सुरक्षाकर्मी शहीद हुए थे.

    कैसे हुआ है इस बार का हमला
    शुरुआती जांच में एजेंसियों को पता चला है कि इस हमले में दो IED का इस्तेमाल किया गया. इन्हें ड्रोन के जरिए भेजा गया था. किस जगह बम से हमला करना है इसको लेकर ड्रोन में जीपीएस भी लगाए गए थे. बता दें की जीपीएस से किसी खास स्थान के लोकेशन का सही-सही पता चलता है. पहला हमला एयरपोर्ट पर बिल्डिंग के छत पर किया गया, जबकि दूसरा हमला नीचे ज़मीन पर किया गया. दोनों हमले पांच मिनट के अंतराल पर हुए. धमाका इतना तेज़ था कि करीब दो किलोमीटर तक इसकी आवाज़ सुनाई पड़ी.

    जांच टीम घटनास्थल पर
    जम्मू-कश्मीर के पुलिस अधिकारी, फॉरेंसिक एक्सपर्ट और साथ में बाक़ी सुरक्षाकर्मी जांच में जुट गए हैं. सुरक्षा बलों ने इलाके को कुछ ही मिनटों में सील कर दिया. वरिष्ठ अधिकारी, पुलिस और फॉरेंसिक विशेषज्ञ घटनास्थल पर पहुंच गए हैं. सेना के एक प्रवक्ता ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा कहा, ‘जम्मू में वायु सेना के अड्डे में धमाके की खबर मिली है. इसमें कोई साजो सामान क्षतिग्रस्त नहीं हुआ है. जांच चल रही है और विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा है.’

    क्या कहा रक्षा मंत्रालय ने
    रक्षा मंत्रालय की तरफ से एक बयान में कहा गया है कि रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने इस घटना को लेकर वाइस एयर चीफ और एयर मार्शल एचएस अरोड़ा से बातचीत की है. साथ ही कहा गया है कि हालात का जायाजा लेने के लिए एयर मार्शल विक्रम सिंह जम्मू पहुंच रहे हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज