होम /न्यूज /राष्ट्र /Omicron in Punjab: पटियाला मेडिकल कॉलेज में ओमिक्रॉन वेरिएंट के 102 मामले! उपायुक्त ने जताई आशंका

Omicron in Punjab: पटियाला मेडिकल कॉलेज में ओमिक्रॉन वेरिएंट के 102 मामले! उपायुक्त ने जताई आशंका

पंजाब में पिछले कुछ दिनों में संक्रमण के मामलों में काफी वृद्धि देखी गई है. राज्य में अभी तक कोविड-19 के 6,05,922 मामले सामने आए हैं और संक्रमण से 16,651 लोगों की मौत हुई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: AP)

पंजाब में पिछले कुछ दिनों में संक्रमण के मामलों में काफी वृद्धि देखी गई है. राज्य में अभी तक कोविड-19 के 6,05,922 मामले सामने आए हैं और संक्रमण से 16,651 लोगों की मौत हुई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: AP)

Omicron in Punjab: पंजाब के पटियाला क्षेत्र को कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित कहा जा रहा है. बीते हफ्ते में राज्य ...अधिक पढ़ें

    पटियाला. पंजाब (Punjab) के पटियाला (Patiala) स्थित सरकारी मेडिकल कॉलेज में मिले 100 से ज्यादा कोरोना वायरस संक्रमित ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) के मरीज हो सकते हैं. उपायुक्त संदीप हंस ने इस बात की आशंका जताई है. इतनी बड़ी संख्या में कोरोना मरीज मिलने के बाद छात्रों को हॉस्टल खाली करने के लिए कहा गया था. वहीं, राज्य में बिगड़ती स्थिति के मद्देनजर मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने भी आपातकालीन बैठक बुलाई थी.

    मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान पटियाला उपायुक्त हंस ने कहा, ‘पटियाला के सरकारी मेडिकल कॉलेज में कोविड के 102 मामले मिले हैं. सभी मामलों की ओमिक्रॉन वेरिएंट होने की संभावना है. नमूनों को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया है. पटियायला प्रशासन ने सभी शिक्षण संस्थानों को बंद करने का फैसला लिया है.’ पंजाब में 15 जनवरी तक नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है.

    पंजाब के पटियाला क्षेत्र को कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित कहा जा रहा है. बीते हफ्ते में राज्य का करीब 50 फीसदी केसलोड पटियाला और पठानकोट जिले में ही देखा गया था. पटियाला के थापर यूनिवर्सिटी में भी कैंपस में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए थे. पटियाला में सोमवार को 143 मामले सामने आए. इनमें अकेले पटियाला शहर में ही 131 संक्रमित मिले.

    ट्रिब्यून के अनुसार, हंस ने सार्वजनिक रूप से रहवासियों से कोविड उपयुक्त व्यवहार का पालन करने की अपील की है. साथ ही उन्होंने बड़े समारोहों से बचने के लिए भी कहा. उन्होंने कहा कि मामलों में हुई अचानक बढ़त राजेंद्र जिमखाना और महिंद्रा क्लब के चुनाव और न्यू ईयर की शाम को हुई पार्टियों का नतीजा है. हंस ने कहा कि थापर यूनिवर्सिटी में मिले पॉजिटिव केस भी छात्रों के इकट्ठे होने के कारण मिले.

    यह भी पढ़ें: दिल्ली में कोरोना की रफ्तार डराने वाली, दावा- 15 जनवरी से रोजाना 20 से 25 हजार मामले होंगे रिपोर्ट

    रात्रिकालीन कर्फ्यू, शैक्षणिक संस्थान बंद
    कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर पंजाब सरकार ने रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाने, शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने और सिनेमाघरों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित करने का मंगलवार को फैसला किया. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. गृह एवं विधि विभाग की ओर से मंगलवार को जारी एक आदेश के अनुसार, पंजाब के सभी शहरों और कस्बों की नगरपालिका सीमा के भीतर रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक सभी गैर-जरूरी गतिविधियों के लिए लोगों की आवाजाही प्रतिबंधित रहेगी.

    आदेशानुसार, सभी शैक्षणिक संस्थान, स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय और ‘कोचिंग सेंटर’ बंद रहेंगे. बार, सिनेमाघर, मल्टीप्लेक्स, मॉल, रेस्तरां, स्पा, संग्रहालय तथा चिड़ियाघर 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित किए जाएंगे और उनके सभी कर्मचारियों का पूर्ण टीकाकरण अनिवार्य है. पूर्ण टीकाकरण करा चुके कर्मचारियों को ही सरकारी तथा निजी कार्यालयों, कार्यस्थलों, कारखानों में जाने की अनुमति होगी. ये सभी पाबंदियों पंजाब में 15 जनवरी तक जारी रहेंगी.

    पंजाब में पिछले कुछ दिनों में संक्रमण के मामलों में काफी वृद्धि देखी गई है. राज्य में अभी तक कोविड-19 के 6,05,922 मामले सामने आए हैं और संक्रमण से 16,651 लोगों की मौत हुई है.

    (भाषा इनपुट के साथ)

    Tags: Coronavirus, Omicron, Patiala

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें