Home /News /nation /

पटना नाव हादसाः जानें, कहां हुई चूक, किसकी थी गलती? ये है घटनाक्रम...

पटना नाव हादसाः जानें, कहां हुई चूक, किसकी थी गलती? ये है घटनाक्रम...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने त्रासदी में मारे गए लोगों के परिजन को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो-दो लाख रुपए दिए जाने को मंजूरी दी है।

    पटना। पटना में गंगा में नौका डूब जाने से नाबालिगों समेत कम से कम 24 लोगों की मौत हो गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने त्रासदी में मारे गए लोगों के परिजन को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो-दो लाख रुपए दिए जाने को मंजूरी दी है। कैसे हुआ यह हादसा और आखिर कहां रह गई थी चूक?

    चूक कहां- गलती किसकी ?

    प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो नाव पर क्षमता से काफी ज्यादा लोगों के सवार होने से यह हादसा हुआ। नाव जैसे ही किनारे से 15 मीटर आगे बढ़ी ज्यादा वजन होने के कारण गंगा की धारा में बैठ गई।

    जब शासन की तरफ से अधिकारी इसी बात के लिए तैनात किये गए थे कि लोग क्षमता से ज्यादा नावों में सवार न हों तो फिर कैसे इतने लोग एक नाव में चढ़ गए?

    जब ये पहले से पता था कि बहुत भीड़ आने वाली है तो आवश्यकता के मुताबिक राहत दल क्यों नहीं मौजूद थे?

    घटना के बाद अधिकारियों में जिम्मेदारी लेने की कमी नजर आई। छपरा वाले पटना को दोष दे रहे थे, पटना वाले छपरा को।

    आयोजन स्थल के पास में ही बने डॉल्फिन आइलैंड अम्यूजमेंट पार्क को भी हादसे की बड़ी वजह माना जा रहा है। जिस जगह पर सरकार ने पंतगबाजी का आयोजन किया था उससे थोड़ी ही दूरी पर ये अम्यूजमेंट पार्क भी है, जहां लोग अधिक संख्या में मौजूद थे। स्थानीय लोगों के मुताबिक जो नाव डूबी, उस पर सवार लोगों में भारी संख्या इस अम्यूज़मेंट पार्क में घूमने आए लोगों की भी थी। इस अम्यूजमेंट पार्क का निर्माण अवैध है। इसे बिना किसी सरकारी या प्रशासनिक मंजूरी के ही बनाया गया है।

    पटना के इसी एनआईटी घाट पर कई इल्लिगल नाव चलती है, उन पर समय रहते कार्रवाई क्यों नहीं की गई?

    घटनाक्रम-

    05:40 बजे शनिवार शाम गंगा सबलपुर दियारा से नाव खुली। नाव पर लगभग 70 लोग सवार थे।

    05:45 बजे नाव के करीब 25 मीटर दूर पहुंची। नाव डगमगाने लगी। नाव वाले ने संभालने की कोशिश की।

    05:45 बजे अचानक नाव का मोटर बंद हो गया। नाव डूब गई। कुछ लोग तैरकर बाहर निकले।

    06:15 बजे से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू।

    06:39 बजे डीएम और एसपी एनआईटी घाट पर पहुंचे।

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर