कश्मीर में नहीं हो पाई पीडीपी की बैठक, नेताओं को घर से बाहर जाने से रोका गया

कश्मीर में नहीं हो पाई पीडीपी की बैठक, नेताओं को घर से बाहर जाने से रोका गया
पीडीपी नेताओं को मीटिंग में शामिल होने से रोका गया (फाइल फोटो)

पीडीपी (PDP) ने कहा कि इससे ये दावे खोखले साबित हो जाते हैं कि नेताओं को केंद्रशासित प्रदेश में आजादी मिली हुई है. उन्होंने कहा, 'झूठ सामने आ गया है. यह साबित हो जाता है कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट जैसी संस्थाओं के सामने झूठ बोला.'

  • Share this:
श्रीनगर. पीडीपी (PDP) ने दावा किया कि जम्मू-कश्मीर (jammu-Kashmir) प्रशासन ने गुरुवार को पार्टी के अनेक नेताओं को यहां पार्टी की एक बैठक (Meeting) में शामिल होने के लिए उनके घरों से नहीं निकलने दिया. पीडीपी के प्रवक्ता सुहेल बुखारी ने कहा, ‘पीडीपी महासचिव गुलाम नबी लोन हांजुरा ने आज पीडीपी नेताओं की एक बैठक बुलाई थी लेकिन अधिकारियों ने नेताओं को उनके घरों से निकलने नहीं दिया जो अब भी अवैध हिरासत में हैं.’

पीडीपी प्रवक्ता सुहेल बुखारी ने कहा कि इससे ये दावे खोखले साबित हो जाते हैं कि नेताओं को केंद्रशासित प्रदेश में आजादी मिली हुई है. उन्होंने कहा, ‘झूठ सामने आ गया है. यह साबित हो जाता है कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट जैसी संस्थाओं के सामने झूठ बोला.’

माकपा ने भी की कड़ी निंदा



इस बीच माकपा नेता एम वाई तारिगामी ने पीडीपी नेताओं को पार्टी बैठक के लिए घरों से निकलने नहीं देने की पुलिस कार्रवाई की निंदा की. उन्होंने कहा कि इससे कश्मीर में स्थिति सामान्य होने के भाजपा सरकार के खोखले दावे उजागर हो गये हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज