सास ने बहू और उसके दो बच्चों को जानबूझ कर किया कोरोना संक्रमित, घर से निकाला

स्थानीय लोग सास के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.

स्थानीय लोग सास के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.

संक्रमित रहने के दौरान ही वह महिला (Covid Infected Woman) अपनी बहू और उसके दो बच्चों को बार-बार गले लगाया करती थी जिसकी वजह से ये लोग भी कोरोना संक्रमित हो गए. पर यह महिला इतने पर ही नहीं रुकी और बाद में उसने अपनी बहू और उसके दोनों बच्चों को घर से निकाल दिया.

  • Share this:

करीमनगर. तेलंगाना (Telangana) के राजन्ना सरिसिल्ला जिले में कोरोना संक्रमित एक महिला (Covid Infected Woman) ने अपनी बहू और उसके दो बच्चों को कोरोना से संक्रमित कर दिया. वह घर में ही क्वारंटाइन रहकर दवाएं ले रही थी. संक्रमित रहने के दौरान ही वह अपनी बहू और उसके दो बच्चों को बार-बार गले लगाया करती थी जिसकी वजह से ये लोग भी कोरोना संक्रमित हो गए. पर यह महिला इतने पर ही नहीं रुकी और बाद में उसने अपनी बहू और उसके दोनों बच्चों को घर से निकाल दिया.

कोरोना से ग्रस्त सास को यह बर्दाश्त नहीं था कि उसकी बहू उससे दूरी बनाकर रहे जबकि यह स्वाभाविक था कि लोग उससे दूरी बनाकर रहते ताकि उन्हें संक्रमण नहीं हो. पर यह सास इसे बर्दाश्त नहीं कर पायी और उसने अपनी बहू और उसके दो बच्चों को संक्रमित कर दिया. संक्रमण से बचाने के लिए परिवार के लोगों से दूरी बनाकर रहने की बजाय उसने अपने परिवार के लोगों को संक्रमित कर दिया.

एल्लारेड्डिपेट मंडल के थिम्मपुर गांव की घटना

वह अपनी बहू और उसके दो बच्चों को क्वारंटाइन में रहते हुए बार-बार गले लगाती थी और इस तरह तीनों को कोरोना से संक्रमित कर दिया. कोरोना से संक्रमित कर दी गयी यह महिला जिला के एल्लारेड्डिपेट मंडल के थिम्मपुर गांव की है जिसकी शादी नेमालिगुट्टा थंडा आदिवासी गांव के रहने वाले एक व्यक्ति से तीन साल पहले हुई. यह गांव कामारेड्डी जिले के मचरेड्डी मंडल के सोमारिपेटा क्षेत्र में है. इन दोनों के दो बच्चे हैं –एक लड़का और एक लड़की.
लगभग सात महीने पहले वे लोग ओडिशा आ गए थे जहां ऑटो चलाकर वे अपना पेट भरते थे. पांच दिन पहले उसकी मां कोरोना पॉज़िटिव हुई और उसे घर में क्वारंटाइन कर दिया गया. जब वह क्वारंटाइन में थी तो उसकी बहू उससे दूरी बनाते हुए उसकी देखभाल कर रही थी पर सास को यह नागवार गुजरा.

उसने अपनी बहू को अपने पास आने के लिए बाध्य किया और उसको गले लगाया जबकि इसकी जरूरत हीं थी. इसके बाद वह बच्चों से भी क़रीब हुई और उन्हें भी संक्रमित कर दिया. बहू और उसके दो बच्चों को कोरोना वायरस से संक्रमित करने के बाद भी उसकी क्रूरता थमी नहीं और उसने उस महिला को घर से निकाल दिया.

बहन ने दिया सहारा



यह जानने के बाद इस महिला की बहन उसे और उसके दोनों बच्चों को अपने साथ अपने गांव गोल्लापल्ली ले गयी जो कि राचारला के पास है और उसको क्वारंटाइन में रख दिया. इस महिला ने अपनी बहन को बताया कि उसकी सास ने उसे और उसके बच्चों को कोरोना वायरस से संक्रमित कर दिया है.

इस घटना को सुनने के बाद इलाके में यह बात फैल गयी और उसके रिश्तेदार और स्थानीय लोग अब सास के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. (पोन्नम श्रीनिवास की स्टोरी)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज