Home /News /nation /

पेगासस मामले की निगरानी सुप्रीम कोर्ट की एक समिति कर रही, रिपोर्ट का है इंतजार: सरकारी सूत्र

पेगासस मामले की निगरानी सुप्रीम कोर्ट की एक समिति कर रही, रिपोर्ट का है इंतजार: सरकारी सूत्र

सुप्रीम कोर्ट. (File pic)

सुप्रीम कोर्ट. (File pic)

पेगासस सॉफ्टवेयर से जुड़े मामले (Pegasus case) की निगरानी उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) के तहत एक समिति कर रही है और जिसकी रिपोर्ट का इंतजार है. एक सरकारी सूत्र ने शनिवार को यह जानकारी दी.

नयी दिल्ली.  पेगासस सॉफ्टवेयर से जुड़े मामले (Pegasus case) की निगरानी उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) के तहत एक समिति कर रही है और जिसकी रिपोर्ट का इंतजार है. एक सरकारी सूत्र ने शनिवार को यह जानकारी दी. सूत्र ने कहा कि न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश आर वी रवींद्रन की देखरेख में गठित जांच समिति ने दो जनवरी को समाचार पत्रों में एक विज्ञापन भी दिया था, जिसमें उन लोगों से फोन जमा करने का आह्वान किया गया था, जिनका दावा है कि कि उनके उपकरण पेगासस से संक्रमित थे.

सूत्रों ने कहा कि मामला उच्चतम न्यायालय के समक्ष है. न्यायालय ने सेवानिवृत्त न्यायाधीश रवींद्रन की देखरेख में एक समिति गठित की है. समिति की रिपोर्ट का इंतजार है. अमेरिकी समाचार पत्र ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ की खबर के अनुसार, 2017 में भारत और इजराइल के बीच हुए लगभग दो अरब डॉलर के अत्याधुनिक हथियारों एवं खुफिया उपकरणों के सौदे में पेगासस स्पाईवेयर तथा एक मिसाइल प्रणाली की खरीद मुख्य रूप से शामिल थी.

ये भी पढ़ें:   बंगाल: मां-बाप ने बिना कन्यादान सौंपी बेटी, महिला पंडित ने कराई ये अनोखी शादी, जानें पूरा मामला

ये भी पढ़ें: NRI बहन के आरोपों पर नवजोत सिद्धू बोले, लोग सियासत के लिए मां को कब्र से निकाल लाए

‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ की खबर के बाद विपक्षी दल कांग्रेस ने सरकार पर चौतरफा हमला किया. एक मीडिया रिपोर्ट के इस दावे कि भारत ने 2017 में एक रक्षा सौदे के हिस्से के रूप में इज़राइल से पेगासस स्पाइवेयर खरीदा है, कांग्रेस ने सरकार पर संसद और उच्चतम न्यायालय को धोखा देने, लोकतंत्र का अपहरण करने और देशद्रोह में शामिल होने का आरोप लगाया. कांग्रेस अगले हफ्ते शुरू हो रहे आगामी बजट सत्र के दौरान इस मुद्दे को उठाएगी और संसद के भीतर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा सरकार की जवाबदेही तय करने की मांग करेगी.

पेगासस मुद्दे के 2022 के बजट सत्र में फिर छाए रहने की आशंका 

Tags: Pegasus case, Supreme Court

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर