पेगासस पर कांग्रेस के आरोपों को भाजपा ने किया खारिज, पूछा- मानसून सत्र से पहले ही यह क्यों आया

भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद पेगासस प्रकरण को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा. (BJP4India Twitter/19 July 2021)

Pegasus BJP News: रविशंकर प्रसाद ने कहा, 'कांग्रेस पार्टी ने भाजपा पर ऐसे स्तरहीन आरोप लगाए हैं जो राजनीतिक शिष्टाचार से परे हैं. कांग्रेस ने अब तक पेगासस मामले में कोई सबूत पेश नहीं किए हैं.'

  • Share this:

    नई दिल्ली. भाजपा के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने मीडिया रिपोर्ट में आये पेगासस जासूसी विवाद पर कहा कि इस पूरे मामले से भारत सरकार या भाजपा को जोड़ने के मामले में अंशमात्र भी सबूत नहीं हैं. भाजपा नेता ने इस मुद्दे पर कांग्रेस के आरोपों को निराधार बताया. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि इस खबर को सामने लाने वालों ने भी यह दावा नहीं किया कि उस डेटाबेस में मौजूद कोई भी विशेष मोबाइल नंबर यह साबित नहीं करता है कि उसके ऊपर पेगासस स्पाइवेयर (जासूसी सॉफ्टवेयर) का हमला हुआ है.


    'पेगासस प्रोजेक्ट' मीडिया रिपोर्ट को लेकर कांग्रेस के दबाव पर पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, 'भाजपा के खिलाफ कांग्रेस द्वारा लगाए गए राजनीतिक औचित्य की निराधार और बेबुनियाद टिप्पणियों का पार्टी पुरजोर खंडन करती है. 50 से अधिक वर्षों से भारत पर शासन करने वाली पार्टी के लिए यह एक नया निचला स्तर है.' प्रसाद ने कहा, 'कांग्रेस पार्टी ने भाजपा पर ऐसे स्तरहीन आरोप लगाए हैं जो राजनीतिक शिष्टाचार से परे हैं. भाजपा कांग्रेस द्वारा लगाए गए पेगासस मामले के सारे आरोपों को खारिज करती है. कांग्रेस ने अब तक पेगासस मामले में कोई सबूत पेश नहीं किए हैं.'


    फोन में आसानी से घुस जाता है Pegasus Spyware, वॉट्सऐप को भी कर लेता है हैक


    'देश में आधारहीन एजेंडा तैयार करने का प्रयास'
    रविशंकर प्रसाद ने पेगासस विवाद पर कहा कि इसके जरिए संसद में व्यवधान डालने का प्रयास किया गया और देश में आधारहीन एजेंडा तैयार किया गया क्योंकि कांग्रेस का आधार घटता जा रहा और वह हार रही है. भाजपा नेता ने इस खबर की टाइमिंग पर भी सवाल उठाए और पूछा कि क्या नया माहौल बनाने के लिए मानसून सत्र से पहले 'पेगासस' की कहानी को सामने लाने की कोई योजना थी? उन्होंने कहा, 'पेगासस मामला मानसून सत्र से पहले ही शुरू क्यों होता है? क्या कुछ लोग योजनाबद्ध तरीके से लगे हुए थे कि यह मामला मानसून सत्र से पहले ही शुरू करना है ताकि देश में एक नया माहौल बनाया जाए.'


    कंपनी कर रही है खंडन
    रविशंकर प्रसाद ने कहा कि अजीब स्थिति है. कंपनी (एनएसओ ग्रुप) इसका खंडन कर रही है और कह रही है कि उसके अधिकतर उत्पादों को पश्चिमी देशों में इस्तेमाल किया जा रहा है लेकिन भारत को निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा, "ऐसा कोई भी सबूत नहीं है जो 'पेगासस' कहानी में भाजपा या भारत सरकार के किसी भी संबंध को साबित करता है. और क्या हम इस बात से इनकार कर सकते हैं कि एमनेस्टी जैसी संस्थाओं का कई मायनों में भारत विरोधी घोषित एजेंडा था. जब उनसे उनकी फंडिंग का स्रोत पूछा जाता है तो वे कहते हैं, भारत में काम करना मुश्किल है."




    विपक्षी दलों ने साधा सरकार पर निशाना
    दरअसल, कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने इजरायली स्पाइवेयर पेगासस के जरिये कई प्रमुख लोगों की कथित तौर पर जासूसी करवाने के मामले को लेकर सोमवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और इस प्रकरण की स्वतंत्र जांच करवाए जाने की मांग की. हालांकि, सरकार ने विपक्ष के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि संसद के मानसून सत्र से ठीक पहले लगाये गए ये आरोप भारतीय लोकतंत्र की छवि को धूमिल करने का प्रयास हैं.

    अवैध तरीके से निगरानी संभव नहीं : अश्विनी वैष्णव
    सूचना प्रौद्योगिकी और संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने पेगासस स्पाइवेयर के जरिये भारतीयों की जासूसी करने संबंधी खबरों को सोमवार को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि संसद के मानसून सत्र से ठीक पहले लगाये गए ये आरोप भारतीय लोकतंत्र की छवि को धूमिल करने का प्रयास हैं. लोकसभा में स्वत: आधार पर दिये गए अपने बयान में वैष्णव ने कहा कि जब देश में नियंत्रण एवं निगरानी की व्यवस्था पहले से है तब अनधिकृत व्यक्ति द्वारा अवैध तरीके से निगरानी संभव नहीं है. (इनपुट भाषा से भी)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.