अपना शहर चुनें

States

निवार तूफान के बाद तट पर बहकर आ गया सोना, बटोरने के लिए बारिश में भी पहुंच गए सैकड़ों लोग

सोना खोजने भारी संख्या में लोग तट पर पहुंच गए. (प्रतीकात्‍मक फोटो)
सोना खोजने भारी संख्या में लोग तट पर पहुंच गए. (प्रतीकात्‍मक फोटो)

सोने के मिलने के पीछे कुछ लोगों का कहना है कि इलाके में कुछ ऐतिहासिक मंदिर हैं, जो समय के साथ समुद्र में डूब गए हैं. अब निवार तूफान के कारण उनसे निकली चीजें समुद्री किनारे तक आ रही हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 29, 2020, 2:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. भारत के दक्षिणी राज्‍यों के समुद्री इलाकों में गुरुवार को निवार तूफान (Nivar Cyclone) ने कहर ढाया, जिसमें कम से कम 5 लोगों की मौत हो गई. साथ ही कई मकान और पेड़ क्षतिग्रस्‍त हुए हैं. तूफान के कारण बिजली की लाइनें भी प्रभावित हुई हैं. हालांकि इसके बावजूद सैकड़ों लोग भारी बारिश में आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के गोदावरी नदी के तट पर एकत्र दिखे. दरअसल लोगों में यह खबर फैल गई कि निवार के कारण तट पर सोना बहकर आ गया है, जिसके बाद उसे बटोरने के लिए वहां पर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई.

यह नजारा था शनिवार को आंध्र प्रदेश में उडप्‍पा गांव का. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वहां गोदावरी नदी के पूर्वी तट पर लोगों की अचानक भीड़ एकत्र होने लगी. ये लोग वहां सोना खोजने आए थे. ऐसा कहा जा रहा था कि यह सोना तट तक पानी में बहकर आया था. सबसे पहले कुछ मछुआरों ने इस सोने को पाया. इसके बाद जैसे ही यह खबर फैली तो सैकड़ों लोग वहां पहुंच गए. टाइम्‍स ऑफ इंडिया के मुताबिक कुछ लोगों का कहना है कि करीब 50 लोगों को करीब 350-3500 रुपये का सोना मिला. इसकी कुछ फोटो भी सोशल मीडिया पर आईं.






सोने के मिलने के पीछे कुछ लोगों का कहना है कि इलाके में कुछ ऐतिहासिक मंदिर हैं, जो समय के साथ समुद्र में डूब गए हैं. अब निवार तूफान के कारण उनसे निकली चीजें समुद्री किनारे तक आ रही हैं. स्‍थानीय असिस्‍टेंट सब इंस्‍पेक्‍टर ने जानकारी दी कि इस इलाके में यह सामान्‍य बात है कि जब भी मंदिर या मकान बनाया जाता है तो उसकी नींव में सोना गाड़ा जाता है. तूफान के कारण इन मंदिर और मकानों की नींव में पड़ा सोना पानी में बहकर यहां आ सकता है.

अब राजस्‍व अधिकार इस मामले की जांच के लिए जल्‍द गांव जाने की योजना बना रहे हैं. बता दें कि दोपहर में जमीन से टकराने के बाद निवार चक्रवाती तूफान में तब्‍दील हो गया था. इस दौरान तेज हवाएं और भारी बारिश हो रही थी. गृह मंत्री अमित शाह ने तमिलनाडु और पुडुचेरी के मुख्‍यमंत्रियों से बात करके केंद्र द्वारा मदद का भरोसा दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज