बिहार की चुनावी रैली में बोले PM मोदी, कृषि कानूनों का विरोध कर रहे लोग बिचौलियों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं

पीएम मोदी ने बिहार की जनता को लालू प्रसाद यादव की सरकार की याद दिलाई.
पीएम मोदी ने बिहार की जनता को लालू प्रसाद यादव की सरकार की याद दिलाई.

Bihar Assembly elections 2020: बिहार में 28 अक्टूबर से तीन चरणों में होने वाले चुनाव के लिए पीएम मोदी ने सासाराम और गया से नीतीश कुमार और भाजपा को जिताने के लिए लोगों से अभिवादन के साथ रैली की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2020, 2:22 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) में अपनी पहली चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने यहां शुक्रवार को कहा कि देश में केंद्र सरकार द्वारा पारित कृषि कानूनों (Farm Law 2020) का विरोध कर रहे लोग न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) और मंडियों की बात कर बिचौलियों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं.

साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने दावा किया कि चुनाव से पहले ही बिहार के लोगों ने अपना संदेश दे दिया है और सभी सर्वेक्षण दर्शाते हैं कि राज्य में राजग की सरकार कायम रहेगी. पीएम मोदी ने बिहार विधानसभा चुनाव से पहले प्रचार के तहत एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि कृषि कानूनों का विरोध कर रहे लोग एमएसपी और मंडियों की बात कर बिचौलियों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं.

रामविलास पासवान को दी श्रद्धांजलि
उन्होंने लोजपा संस्थापक एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और मुख्य विपक्षी पार्टी राजद के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह को श्रद्धांजलि देते हुए अपनी पहली बिहार चुनाव रैली की शुरुआत की. पीएम ने कहा कि चुनाव से पहले ही बिहार के लोगों ने अपना संदेश दे दिया है और सभी सर्वेक्षण दर्शाते हैं कि राज्य में राजग की सरकार बनी रहेगी.
उन्होंने कहा, ‘‘लोगों ने फैसला किया है कि जिन लोगों का बिहार को ‘बीमारू’ बनाने का इतिहास रहा है, उन्हें वापस लौटने की अनुमति नहीं दी जाएगी.’ प्रधानमंत्री ने जम्मू-कश्मीर में संविधान के अनुच्छेद 370 को बहाल करने की विपक्ष की मांग को लेकर उसकी आलोचना की और विपक्ष पर भारत को कमजोर करने का षड्यंत्र रचने वालों का पक्ष लेने का आरोप लगाया.



बिहार में भाजपा और जनता दल (यूनाईटेड) के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) का गठबंधन है. राजग के मुकाबले राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेतृत्व में कांग्रेस और वामपंथी दलों का महागठबंधन मैदान में है.

केंद्र में भाजपा की सहयोगी और पूर्व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान द्वारा गठित लोक जनशक्ति पार्टी अकेले चुनाव मैदान में है जबकि पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा की पार्टी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सहित कुछ छोटे दलों का गठबंधन भी चुनावी मैदान में ताल ठोक रहा है.

राज्य में तीन चरणों में होगा मतदान
बिहार विधानसभा चुनाव तीन चरणों में, 28 अक्टूबर (71 सीटों), 3 नवंबर (94 सीटों) और 7 नवंबर (78 सीटों) होगा. मतगणना 10 नवंबर को होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज