Home /News /nation /

मंदिर-मस्जिद की राजनीति करने वालों को लोगों ने नकारा: महबूबा मुफ्ती

मंदिर-मस्जिद की राजनीति करने वालों को लोगों ने नकारा: महबूबा मुफ्ती

महबूबा मुफ्ती (फाइल फोटो)

महबूबा मुफ्ती (फाइल फोटो)

बता दें कि कांग्रेस ने मंगलवार को राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भाजपा को सत्ता से बेदखल कर दिया, जबकि मध्य प्रदेश में दोनों पार्टियों में कांटे की टक्कर देखने को मिली है.

    पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने मंगलवार को कहा कि पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के नतीजों ने यह साबित कर दिया है कि देश में राजनीतिक जागृति बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि देश ने सांप्रदायिक राजनीति को खारिज कर दिया है.

    कांग्रेस ने मंगलवार को राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भाजपा को सत्ता से बेदखल कर दिया, जबकि मध्य प्रदेश में दोनों पार्टियों में कांटे की टक्कर देखने को मिली है. वहीं, तेलंगाना में टीआरएस फिर से सत्ता में लौट आई है जबकि एमएनएफ ने मिजोरम की सत्ता से कांग्रेस को बाहर कर दिया है.

    पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा की हार का जिक्र करते हुए अपने ट्विटर हैंडल पर कहा, "लोगों ने मंदिर-मस्जिद राजनीति को खारिज दिया, नतीजों से भारत में राजनीतिक जागृति बढ़ती दिख रही है."



    गौरतलब है कि इस साल जून तक जम्मू कश्मीर में पीडीपी और भाजपा की गठबंधन सरकार थी.

    महबूबा ने कहा कि स्पष्ट रूप से देश ने समाज का ध्रुवीकरण करने की कोशिशें खारिज कर दी है.

    हालांकि नेशनल कॉन्फ्रेंस उप प्रमुख उमर अब्दुल्ला इन राज्यों में विधानसभा चुनावों के नतीजों पर कोई सीधी टिप्पणी करने से बचते नजर आए.

    उन्होंने ट्वीट किया कि मध्य प्रदेश में बराबरी का मामला है लेकिन भाजपा ने वहां सरकार बनाने की उम्मीद नहीं छोड़ी है.

    Tags: Assembly Elections 2018, Chhattisgarh Assembly Election 2018, Jammu and kashmir, Madhya Pradesh Assembly Election 2018, Mehbooba mufti, PDP, Rajasthan Assembly Election 2018

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर