पंजाब में मास्क नहीं पहनना और थूकना पड़ा भारी, सरकार ने वसूले सवा तीन करोड़

पंजाब में मास्क नहीं पहनना और थूकना पड़ा भारी, सरकार ने वसूले सवा तीन करोड़
पंजाब सरकार ने जगह-जगह थूकने वालों से एक करोड़ रुपये वसूले हैं. (सांकेतिक चित्र)

कोरोना (Corona) से बचने के लिए लोगों से मास्क (Mask) और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करने को कहा जा रहा है. यही नहीं नियमों का पालन न करने वालों का चालान भी किया जा रहा है.

  • Share this:
जालंधर. देश में कोरोना वायरस (Coronavire) का संक्रमण तेजी से फैल रहा है. देश में कोरोना (Corona) मरीजों की संख्या 3 लाख को पार कर गई है. कोरोना से बचाव के लिए केंद्र सरकार (Central Government) ने पिछले कई महीनों से जागरूकता अभियान चलाया हुआ है. कोरोना से बचने के लिए लोगों से मास्क (Mask) और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करने को कहा जा रहा है. यही नहीं नियमों का पालन न करने वालों का चालान भी किया जा रहा है. पंजाब सरकार ने भी केंद्र के नियमों का पालन न करने वालों पर जुर्माना लगाना शुरू किया था. बताया जाता है कि पिछले दो महीने में सरकार तीन करोड़ रुपये चालान से वसूल चुकी है.

केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी से लोगों को बचाने के लिए कई नियम तैयार किए हैं और नियम का पालन नहीं करने पर जुर्माना लगाने को कहा है. मास्क न पहनने पर 200 रुपये और पब्लिक प्लेस में थूकने पर 100 रुपये के जुर्माने का प्रावधान किया गया था. हालांकि पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सरकार ने इस जुर्माने की राशि को 30 मई को बढ़ा दिया था. पंजाब में मास्क न पहनने और पब्लिक प्लेस में थूकने पर 500-500 रुपये के चालान की बात कही गई थी. इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने पर तीन हजार रुपये का जुर्माना तय किया था. पंजाब सरकार की सख्ती के बावजूद यहां के लोगों पर कोई फर्क नहीं दिखाई दिया. बताया जाता है दो माह के अंदर सरकार ने 2.25 करोड़ मास्क न पहनने और एक करोड़ थूकने पर वसूल किए हैं.





पंजाब में सबसे ज्यादा चालान मास्क न पहनने वालों के काटे गए हैं. तीन करोड़ की चालान में 50 प्रतिशत की रकम मास्क न पहनने वालों की हैं. वहीं, 21% थूकने और बाकी सोशल डिस्टेंसिंग और कर्फ्यू उल्लंघन के चलते वसूली गई है. बता दें कि इस चालान की कुल रकम का 70% जुर्माना जालंधर, लुधियाना, बठिंडा और पटियाला के लोगों ने ही भरा है. बठिंडा में कुल 24.28 लाख रुपए का जुर्माना वसूला गया, जबकि जालंधर में कुल 21.5 लाख का जुर्माना वसूला गया.
इसे भी पढ़ें :-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज