गुजरात के किसानों के लिए खुशखबरी, पेप्सी ने केस वापस लेने का किया ऐलान

गुजरात के किसानों के लिए खुशखबरी, पेप्सी ने केस वापस लेने का किया ऐलान
फाइल फोटो

पेप्सी ने कहा कि सरकार के साथ बातचीत के बाद कंपनी ने यह निर्णय लिया है कि किसानों के खिलाफ मामला वापस ले लिया जाए.

  • Share this:
ब्रेवरेज कंपनी पेप्सीको इंडिया ने गुजरात के चार किसानों को आखिर राहत दे ही दी. रजिस्टर्ड आलू की किस्म एफसी 5 उगाने को लेकर जो केस अमेरिकन कंपनी पेप्सी ने कोर्ट में दायर किया था उसे वापस लेने की आधिकारिक घोषणा कर दी. पेप्सीको इंडिया के प्रवक्ता ने कहा कि सरकार के साथ बातचीत के बाद कंपनी ने यह निर्णय लिया है कि किसानों के खिलाफ मामला वापस ले लिया जाए.

गौरतलब है कि पेप्सी ने अप्रैल में ही गुजरात के उन किसानों के खिलाफ कोर्ट में मामला दायर करवाया था जिन्होंने कंपनी की ओर से रजिस्टर्ड एफसी-5 को उगाया था और बाजार में बेचा भी था. इस किस्म का आलू पेप्सी अपने चिप्स के ब्रांड के लिए उपयोग करती है और इसे उगाने संबंधी लाइसेंस कंपनी खुद देती है.

ये भी पढ़ें: खुशखबरी! जल्द घटेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए क्या है वजह



पहले कहा था समझौते को तैयार



इससे कुछ दिन पहले भी पेप्सी के प्रवक्ता ने कहा था कि हम किसानों को परेशान करना नहीं चाहते हैं और इसके लिए हम उनसे समझौता करने को तैयार है. कंपनी ने कहा था कि किसानों को समझौता करने के तहत या तो आलू की खेती जारी रखने के लिए कंपनी के साथ समझौता करना होगा और पूरी फसल पर कंपनी का हक होगा, लेकिन इसके लिए किसानों को बाजार से ज्यादा दाम दिए जाएंगे. वहीं दूसरा विकल्प था कि वे ये आलू न उगाएं और इसके लिए शपथ पत्र दें.

ये भी पढ़ें: जून महीने में घूम आएं भूटान, IRCTC दे रहा है खास ऑफर
मांगा था एक करोड़ का हर्जाना
कंपनी ने नौ किसानों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी. पेप्सी का कहना था कि इन सभी ने कंपनी के रजिस्टर्ड किस्म के आलू को उगाया और बेचा है. ऐसे में कंपनी को काफी नुकसान हुआ है. कंपनी ने हर आलू किसान से एक-एक करोड़ का हर्जाना मांगा था.


एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading