ड्रोन के जरिए होगी वैक्सीन डेलिवरी! IIT कानपुर के साथ स्टडी करेगा ICMR

वैक्सीन डेलिवरी के लिए ड्रोन के इस्तेमाल की व्यावहारिकता की स्टडी की जाएगी. (सांकेतिक तस्वीर)

वैक्सीन डेलिवरी के लिए ड्रोन के इस्तेमाल की व्यावहारिकता की स्टडी की जाएगी. (सांकेतिक तस्वीर)

नागरिक उड्डयन मंत्रालय और डायरेक्टर ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) को इसकी स्टडी की मंजूरी दे दी है. ड्रोन का इस्तेमाल कर वैक्सीन की डेलिवरी करने की ये स्टडी ICMR और IIT कानपुर साथ मिलकर करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2021, 5:45 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दुनिया का सबसे बड़ा कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम (Covid Vaccination Drive) चला रहा भारत अब वैक्सीन डेलिवरी (Vaccine Delivery) के लिए ड्रोन के इस्तेमाल (Use Of Drone) की तैयारी कर रहा है. नागरिक उड्डयन मंत्रालय और डायरेक्टर ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) को इसकी स्टडी की मंजूरी दे दी है. ड्रोन का इस्तेमाल कर वैक्सीन की डेलिवरी करने की ये स्टडी ICMR और IIT कानपुर साथ मिलकर करेंगे. इस स्टडी में ड्रोन के इस्तेमाल से वैक्सीन डेलिवरी की व्यावहारिकता को परखा जाएगा. इस स्टडी की मंजूरी अगले एक साल के लिए दी गई है.

अगर इस स्टडी में ड्रोन का इस्तेमाल व्यावहारिक साबित होता है तो देश में कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम को रफ्तार देने में मदद मिलेगी. दूर-दराज के इलाकों में वैक्सीन डेलिवरी सिस्टम को ड्रोन की मदद से और बेहतर बनाने के प्रयासों को बल मिलेगा. सबसे बड़ी बात इससे वैक्सीन पहुंचाने में वक्त की बचत होगी जो कोरोना जैसी वैश्विक महामारी का सामना करने के लिए बेहद जरूरी है.

फिर बढ़ाया जा रहा है वैक्सीनेशन का दायरा, 18 साल से ऊपर सभी शामिल

बता दें कोरोना की दूसरी लहर की भयावह रफ्तार को देखते हुए केंद्र सरकार ने 18 साल की उम्र के लोगों को भी वैक्सीनेशन ड्राइव में शामिल करने का फैसला किया है. 18 साल से अधिक की उम्र के लोगों को 1 मई से वैक्सीन लगने लगेगी. देशव्यापी वैक्सीनेशन अभियान 16 जनवरी को शुरू किया गया था. 16 जनवरी से स्वास्थ्यकर्मियों के लिए और 2 फरवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए वैक्सीनेशन शुरू हुई थी. 1 अप्रैल से 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत हुई थी.
भारत में कोरोना वैक्सीनेशन एक रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के तहत हो रहा है यानी वैक्सीन लगवाने के लिए आपको रजिस्ट्रेशन कराना होगा. अगर कोई व्यक्ति ऑनलाइन अपॉइंटमेंट नहीं लेना चाहता तो वह नजदीकी वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज