CM योगी को राज ठाकरे का जवाब, 'तो फिर यूपी के मजदूरों को राज्य सरकार की इजाजत के बिना महाराष्ट्र में नहीं आने देंगे'

CM योगी को राज ठाकरे का जवाब, 'तो फिर यूपी के मजदूरों को राज्य सरकार की इजाजत के बिना महाराष्ट्र में नहीं आने देंगे'
राज ठाकरे कहा कि सरकार को गंभीरता के साथ यह काम करना होगा. (File Photo)

मनसे प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने कहा कि अगर प्रवासी श्रमिक (Migrant labourers) महाराष्ट्र आकर काम करना चाहेंगे तो उन्हें भी महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) की अनुमति लेनी होगी.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
मुंबई. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) द्वारा राज्य के प्रवासी श्रमिकों (Migrant Workers) को लेकर की गई टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए मनसे प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने कहा कि अगर श्रमिक महाराष्ट्र आकर काम करना चाहेंगे तो उन्हें भी महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) की अनुमति लेनी होगी.

रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा था कि अगर दूसरे राज्य चाहते हैं कि यहां के श्रमिक उनके यहां काम करें तो इसके लिए पहले उन्हें प्रदेश की सरकार से अनुमित लेनी होगी.

'महाराष्ट्र सरकार को इन बातों को गंभीरता से लेना चाहिए'
महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (Maharashtra Navnirman Sena) प्रमुख ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार को इस तरह की बातों को गंभीरता से लेना चाहिए. राज ठाकरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Maharashtra's CM Uddhav Thackeray) के चचेरे भाई हैं.



योगी ने जताया था इस बात पर दुख


योगी ने इस बात पर दुख जताया कि कोरोना वायरस के कारण लगाए गए लॉकडाउन के दौरान कई राज्यों ने प्रवासी कामगारों का ‘उचित तरीके से ध्यान नहीं’ रखा. उन्होंने रविवार को कहा था कि जो भी राज्य चाहता है कि प्रदेश के प्रवासी कामगार उनके यहां वापस आएं, उन्हें राज्य सरकार से इसकी इजाजत लेनी होगी और उन कामगारों के सामाजिक, कानूनी और आर्थिक अधिकार सुनिश्चित करने होंगे.

राज ठाकरे ने कहा- प्रवासी श्रमिकों का पंजीकरण करे सरकार
इस पर प्रतिक्रिया देते हुए राज ठाकरे ने कहा, 'अगर योगी आदित्यनाथ इस बात पर जोर दे रहे हैं कि उत्तर प्रदेश के लोगों को काम देने के लिए अनुमति लेनी होगी तो उन्हें भी यहां काम करने के लिए महाराष्ट्र सरकार से अनुमति लेनी होगी.' उन्होंने एक बयान में कहा, 'महाराष्ट्र सरकार को इस तरह की बातों को गंभीरता से लेना चाहिए. कोई भी कर्मी जो यहां काम करने के लिए आएंगे उन्हें सरकार के साथ-साथ स्थानीय प्रशासन के पास भी पंजीकरण कराना चाहिए. इन श्रमिकों को अपने दस्तावेज और तस्वीरें भी यहां जमा करानी होंगी.'

उन्होंने कहा कि सरकार को गंभीरता के साथ यह काम करना होगा. राज ठाकरे ने कहा कि जो मजदूर इन जरूरतों पर खरा उतरें उन्हें ही राज्य में काम करने की अनुमति दी जाए.

ये भी पढ़ें:

भारत में और गंभीर हुआ कोरोना वायरस, अब युवाओं को बना रहा निशाना

'योगी सबसे अक्षम और निर्दयी CM, वह अपने प्रदेशवासियों के दुश्मन साबित हो रहे'
First published: May 25, 2020, 4:01 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading