Home /News /nation /

इस वजह से ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से लिंक करना चाहती है केंद्र सरकार

इस वजह से ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से लिंक करना चाहती है केंद्र सरकार

(फाइल फोटो- रविशंकर प्रसाद)

(फाइल फोटो- रविशंकर प्रसाद)

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि एक व्यक्ति अपना नाम बदल सकता है लेकिन फिंगर प्रिंट नहीं.

    केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि उन्होंने सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से आधार मामले में बात की है. उन्होंने आधार कार्ड को ड्राइविंग लाइसेंस से जोड़ने की बात की है. उन्होंने कहा कि अगर कोई व्यक्ति नशे में लोगों को कुचलकर किसी और राज्य में भाग जाए तो उसे आसानी से पकड़ा जा सके. एक व्यक्ति अपना नाम बदल सकता है लेकिन फिंगर प्रिंट नहीं.



    2017 से ही ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से लिंक करने की बात चल रही है. केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से लिंक करने के पक्षधर रहे हैं.  उन्होंने यूनीक आइडेंटिफिकेशन नंबर (आधार) के साथ ड्राइविंग लाइसेंस को लिंक करने की कोई समय अवधि नहीं दी है. केंद्र सरकार के इस कदम का मकसद फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने पर रोक लगाना है. आधार से जुड़े होने से आपके सारे बायोमीट्रिक डिटेल्स सरकारी एजेंसियां ड्राइविंग लाइसेंस से पता कर सकेंगी. ऐसे में अगर कोई शख्स दो ड्राइविंग लाइसेंस बनाना चाहता है तो उसकी चोरी पकड़ी जाएगी.

    रवि शंकर प्रसाद ने डिजिटल हरियाणा समिट 2017 में कहा था ‘डिजिटल आइडेंटिटी, डिजिटल टेक्नोलॉजी की मदद से फिजिकल आइडेंटिटी को कंफर्म करती है.’ इसकी मदद से आपराधिक घटनाओं में भगोड़ों की पहचान आसानी से की जा सकेगी.

    Tags: Ravishankar prasad

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर