Home /News /nation /

कम होगी पेट्रोल-डीजल की कीमत! इस बडे़ कदम पर सरकार कर रही विचार

कम होगी पेट्रोल-डीजल की कीमत! इस बडे़ कदम पर सरकार कर रही विचार

रणनीतिक तेल भंडार से कच्चे तेल निकालने की संभावना. (सांकेतिक तस्वीर)

रणनीतिक तेल भंडार से कच्चे तेल निकालने की संभावना. (सांकेतिक तस्वीर)

Crude Oil Prices: सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि भारत अपने रणनीतिक तेल भंडार से निकासी के तौर-तरीकों पर काम कर रहा है. हालांकि, सरकार ने इसके लिए कोई समयसीमा नहीं तय की है. इस अधिकारी ने अपना नाम सामने न आने की शर्त पर कहा कि सरकार इस संबंध में प्रमुख तेल उपभोक्ता देशों के संपर्क में बनी हुई है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारत कच्चे तेल (Crude Oil) की कीमतों में कमी लाने के लिए बड़ी अर्थव्यवस्थाओं (Big Economies) की तर्ज पर अपने रणनीतिक तेल भंडार से कच्चे तेल निकालने की संभावनाओं पर गौर कर रहा है. सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को बताया कि भारत अपने रणनीतिक तेल भंडार से निकासी के तौर-तरीकों पर काम कर रहा है. हालांकि, सरकार ने इसके लिए कोई समयसीमा नहीं तय की है.

    इस अधिकारी ने अपना नाम सामने न आने की शर्त पर कहा कि सरकार इस संबंध में प्रमुख तेल उपभोक्ता देशों के संपर्क में बनी हुई है. उन्होंने कहा कि रणनीतिक भंडार से तेल की निकासी दूसरे देशों के साथ तालमेल बनाकर की जाएगी. अमेरिका ने तेल निर्यातक देशों के समूह ओपेक द्वारा कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने का अनुरोध ठुकराए जाने के बाद दुनिया के प्रमुख तेल उपभोक्ता देशों से अपने रणनीतिक भंडार से कुछ तेल निकालने का सुझाव दिया है. भारत के अलावा चीन और जापान से भी यह अनुरोध किया गया है.

    कच्चे तेल के दाम बढ़ने से भारत पर काफी असर पड़ा है
    अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बढ़ने से भारत पर काफी असर पड़ा है. दुनिया का तीसरा बड़ा तेल उपभोक्ता देश होने से भारत को अपनी विदेशी मुद्रा का एक बड़ा हिस्सा तेल आयात पर खर्च करना पड़ रहा है. अमेरिकी कदम के बाद ब्रेंट क्रूड के भाव 78.72 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर आ गए हैं जो दस दिन पहले तक 81.24 डॉलर प्रति बैरल पर थे. भारत के पास 53.3 लाख टन का कच्चे तेल का रणनीतिक तेल भंडार है.

    फिर घट सकती हैं कीमत
    इससे पहले खबर आई थी कि घरेलू ईंधन खुदरा विक्रेता पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी कर सकते हैं क्योंकि यूरोप में कोविड मामलों में फिर से तेजी आ रही है. कोविड संक्रमण के कारण पिछले साल अंतरराष्ट्रीय कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट आई थी. एक बार फिर कोविड संक्रमण फैलने से तेल के दामों में कमी देखने को मिल रही है.

    शुक्रवार को बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 6.95 प्रतिशत गिरकर 78.89 डॉलर प्रति बैरल हो गया, जो 10 दिन पहले 84.78 डॉलर प्रति बैरल था. फिलहाल अनुमान लगाया जा रहा है कि आम आदमी को जल्द ही तेल की कीमतों में एक रुपये प्रति लीटर की कटौती देखने को मिल सकती है

    Tags: Crude oil, Petrol and diesel

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर