होम /न्यूज /राष्ट्र /PFI ने बनाई थी 2047 तक भारत को इस्लामिक देश बनाने की योजना, महाराष्ट्र एटीएस चीफ का बड़ा खुलासा

PFI ने बनाई थी 2047 तक भारत को इस्लामिक देश बनाने की योजना, महाराष्ट्र एटीएस चीफ का बड़ा खुलासा

महाराष्ट्र एटीएस प्रमुख विनीत अग्रवाल. ( फोटो- ANI)

महाराष्ट्र एटीएस प्रमुख विनीत अग्रवाल. ( फोटो- ANI)

महाराष्ट्र (Maharashtra) एटीएस (ATS) चीफ विनीत अग्रवाल ने कहा है कि इस्‍लामिक संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) पर बैन ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पीएफआई पर छापेमारी के बाद हुई बैन की कार्रवाई
महाराष्‍ट्र एटीएस चीफ ने कहा- PFI के खाते फ्रीज होंगे
टारगेट किलिंग की तैयारी में था PFI, दे रहा था ट्रेनिंग

मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) एटीएस (ATS) चीफ विनीत अग्रवाल ने कहा है कि इस्‍लामिक संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) पर बैन लगाने से पहले छापेमारी की गई. प्रतिबंध के बाद संगठन PFI को भंग कर दिया गया है. अब, उन्हें कानूनी मंच को छोड़कर, किसी भी मंच पर फिर से इकट्ठा होने या विरोध करने का कोई अधिकार नहीं है. हम उनके डेटा को फिर से प्राप्‍त करने के लिए उपकरणों का उपयोग कर रहे हैं. उन्होंने लोगों को घृणा अपराध करने के लिए प्रेरित करके 2047 तक इस्लामिक देश बनाने की योजना बनाई थी.

महाराष्ट्र एटीएस चीफ विनीत अग्रवाल ने कहा है कि PFI टारगेट किलिंग की तैयारी में था, इनका काम था टारगेट को पहचानना और उसे खत्‍म कर देना. हमारी कार्रवाई जारी है और हम उनके अन्‍य खातों को भी फ्रीज कर देंगे. इससे पहले PFI  के खिलाफ 5 एफआईआर दर्ज हुई थीं जिनके आधार पर नेशनल इनवेस्‍टीगेशन एजेंसी (NIA) ने छापा मारते हुए 100 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर लिया था.  निजामाबाद की जो एफआईआर दर्ज हुई है उसमें इस बात का जिक्र है कि पीएफआई सशस्त्र ट्रेनिंग अपने काडरों को वहां देती थी. यही एनआईए का देशभर में कार्रवाई करने के लिए आधार बनी.  PFI टेरर फंडिंग, ट्रेनिंग कैंप संचालित कर रहा था जिसका उद्देश्‍य कट्टरता फैलाना है. वह युवाओं को संगठन से जोड़ रहा था.

PFI अपने सदस्‍यों को हथियार उठाने के लिए कहता था 

एटीएस का कहना है कि PFI लोगों के मन में डर पैदा कर रहा था और संगठन में शामिल लोगों को इस बात के लिए राजी कर रहा था कि वे सब भारत में असुरक्षित हैं और ऐसे में भारत को तुरंत इस्‍लामिक स्‍टेट बनाना होगा. इस संबंध में एक रिपोर्ट महाराष्‍ट्र के गृह मंत्री और डिप्‍टी सीएम देवेंद्र फडणवीस को सौंपी गई है. इसमें बताया गया है कि छापेमारी के दौरान PFI से जुड़े लोगों के ठिकानों से इलेक्ट्रॉनिक डॉक्यूमेंट, इलेक्ट्रॉनिक गैजेट और दस्‍तावेज मिले हैं. इसके सदस्‍यों के पाकिस्‍तान से कनेक्‍शन की बात भी सामने आई है. PFI लोगों को बार-बार मीटिंग के बहाने बुलाकर यह बात कहता था कि डर को समाप्‍त करना होगा और इसके लिए हथियार ही उठाने होंगे.

Tags: ATS, Maharashtra, PFI

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें